Tuesday , September 26 2017
Home / Delhi / Mumbai / केरल में न्यायाधीशों और नेताओं को खतरा राज्य सरकार को इंटेलिजेंस की गोपनीय रिपोर्ट

केरल में न्यायाधीशों और नेताओं को खतरा राज्य सरकार को इंटेलिजेंस की गोपनीय रिपोर्ट

A police officer stands guard near the hotel where the 10th International Institute for the strategic Studies taking place in Manama, Bahrain, Dec. 5, 2014. Senior ministers from Britain, France, Egypt, Iraq and the United Arab Emirates are among the participants, who are expected to discuss regional security and countering extremism, including efforts to fight the Islamic State group. (AP Photo/Hasan Jamali)

तिरुवनंतपुरम: केरल में इंटेलिजेंस एजेंसियों ने राज्य सरकार को चेतावनी दी है कि हाई कोर्ट के 2 न्यायाधीशों, कुछ नेताओं को आईएसआईएस से जुड़े गुर्गों से खतरा हो सकता है। यह चेतावनी एनआईए की ओर से राज्य में 6 संदिग्धों की गिरफ्तारी के बाद दी गई है। उस ख़ुसूस में अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस इंटेलिजेंस ने मुख्यमंत्री यूजीन एक रिपोर्ट पेश की है कि गृह मंत्रालय का कलमदान भी रखते हैं। पुलिस सूत्रों ने यह जानकारी दी लेकिन विवरण देने से इनकार कर दिया। राष्ट्रीय जांच संस्थान (एनआईए) ने आतंकवादी हमले की योजना बनाने के आरोप में केरल से 6 लोगों को रविवार के दिन गिरफ्तार कर लिया था जबकि इस संस्था केरल से अचानक लापता 21 लोगों के बारे में छानबीन कर रही है। संदेह है कि ये लोग इस्लामिक स्टेट (आईएस) में शामिल हो गए हैं।

केरल पुलिस दिल्ली पुलिस और तेलंगाना पुलिस के साथ एनआईए की टीमों ने तलाशी और पीछा के बाद 6 लोगों को जिलों कोआभ कोड और कुंवर से गिरफ्तार कर लिया था। एनआईए ने बताया कि 5 लोगों को कुंवर में आयोजित एक बैठक के दौरान पकड़ लिया गया जबकि एक अन्य व्यक्ति को कोईाडी (कोआभ कोड) हिरासत में लिया गया। इससे पहले एनआईए ने केरल से लापता 21 युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है कि आईएसआईएस में शामिल हो लिए कृपया अफगानिस्तान, सीरिया रवाना हो गए हैं। इस बीच महानिदेशक पुलिस लोक नाथ बहीरह ने बताया कि गिरफ्तार 6 लोगों की पृष्ठभूमि का पता चलाया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT