Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / के वी पी के ख़िलाफ़ तहकीकात का मुतालिबा

के वी पी के ख़िलाफ़ तहकीकात का मुतालिबा

सेक्रेटरी ए आई सी सी-ओ-रुकन राज्य सभा वी हनुमंत राव ने डाक्टर के वी पी की तहक़ीक़ात का सी बी आई से मुतालिबा किया, जगन के ख़िलाफ़ चीफ़ मिनिस्टर की तन्क़ीदों की मुदाफ़अत की और राज भवन में मिस्टर ई एस अल नरसिम्हन से मुलाक़ात करते हुए द

सेक्रेटरी ए आई सी सी-ओ-रुकन राज्य सभा वी हनुमंत राव ने डाक्टर के वी पी की तहक़ीक़ात का सी बी आई से मुतालिबा किया, जगन के ख़िलाफ़ चीफ़ मिनिस्टर की तन्क़ीदों की मुदाफ़अत की और राज भवन में मिस्टर ई एस अल नरसिम्हन से मुलाक़ात करते हुए दूसरी मीयाद के लिए दुबारा गवर्नर बनने पर मुबारकबाद पेश की। बादअज़ां (बाद में) मीडीया से बातचीत करते हुए मिस्टर वी हनुमंत राव ने कहा कि कांग्रेस के रुकन पार्लियामेन्ट मधूगौड़ यशकी ने कांग्रेस के रुकन राज्य सभा डाक्टर के वी पी राम चन्द्र राव के ख़िलाफ़ सी बी आई तहक़ीक़ात का जो मुतालिबा किया है, वो हक़ बजानिब है, क्योंकि डाक्टर राज शेखर रेड्डी और डाक्टर के वी पी राम चन्द्र राव एक जान दो जिस्म जैसे थे।

ये बात सब को मालूम है कि जब तक के वी पी से मुलाक़ात ना की जाती, डाक्टर राज शेखर रेड्डी से मिलना नामुमकिन था। सी बी आई की तहक़ीक़ात में डाक्टर राज शेखर रेड्डी के शख़्सी सेक्योरिटी गार्ड सुरेडू ने भी यही बात बताई थी। जब वुज़रा और दीगर (दुसरे) लोगों से तहक़ीक़ात जारी हैं तो डाक्टर के वी पी राम चन्द्र राव को क्यों नजरअंदाज़ किया जा रहा है?। हुकूमत के साबिक़ मुशीर (सलाहकार) से तहक़ीक़ात की गई तो मज़ीद राज़ से पर्दा उठेगा। उन्हों ने जगन की जानिब से कांग्रेस हुकूमत और क़ियादत पर की जाने वाली तन्क़ीदों को मुस्तर्द कर दिया। चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी की जानिब से जगन पर की जाने वाली तन्क़ीदों का ख़ौर मक़दम करते हुए कहा कि इस तरह का जारिहाना (आक्रामक) रवैय्या अपनाने में चीफ़ मिनिस्टर ने ताख़ीर की।

अगर यही रवैय्या पहले अपनाया जाता तो इंतिख़ाबी मंज़र नामा कुछ और होता। उन्हों ने जगन मोहन रेड्डी की जानिब से तिरूपति में डिक्लेरेशन पर दस्तख़त किए बगै़र दर्शन की इजाज़त की सख़्त मुज़म्मत करते हुए कहा कि वो इस के ख़िलाफ़ मई के अवाख़िर में तिरूपति में एक रोज़ा ख़ामोश एहतिजाज करेंगे। ज़िमनी इंतिख़ाबात (उप चुनाव) में कांग्रेस पार्टी का शानदार मुज़ाहरा होने की तवक़्क़ो का इज़हार करते हुए कहा कि कांग्रेस क़ाइदीन मुत्तहिदा (संगठित) तौर पर पार्टी उम्मीदवारों की इंतिख़ाबी मुहिम चला रहे हैं। अवाम, जगन और नायडू पर भरोसा करने वाले नहीं हैं, बेशतर हल्कोंमें कांग्रेस उम्मीदवारों की कामयाबी यक़ीनी है।

TOPPOPULARRECENT