Sunday , October 22 2017
Home / Khaas Khabar / के सी आर की हैदराबाद आमद। जलूस फ़तह की झलकियां

के सी आर की हैदराबाद आमद। जलूस फ़तह की झलकियां

टी आर एस के सरबराह के चन्द्र शेखर राव‌ की तेलंगाना बिल की मंज़ूरी के बाद पहली मर्तबा हैदराबाद आमद पर पार्टी कारकुनों के अलावा तेलंगाना हामीयों की जानिब से शानदार इस्तिक़बाल किया गया।

टी आर एस के सरबराह के चन्द्र शेखर राव‌ की तेलंगाना बिल की मंज़ूरी के बाद पहली मर्तबा हैदराबाद आमद पर पार्टी कारकुनों के अलावा तेलंगाना हामीयों की जानिब से शानदार इस्तिक़बाल किया गया।

चन्द्र शेखर राव‌ जो अपने वाअदे के मुताबिक़ आंध्र प्रदेश से दिल्ली रवाना होकर वापसी पर तेलंगाना में क़दम रखा है, अपनी इस कामयाबी पर ग़ैरमामूली पुराज़म दिखाई दे रहे थे।

टी आर एस के अक़लियती क़ाइदीन रूमी टोपी पहने हुए रियाली में अवाम की तवज्जा का मर्कज़ बने हुए थे। अक़लियती क़ाइदीन ने चन्द्र शेखर राव‌ को इमाम-ए-ज़ामन बांधा। नई दिल्ली से हैदराबाद रवानगी से पहले भी अक़लियती क़ाइदीन ने के सी आर के घर पहुंच कर उन्हें इमाम-ए-ज़ामन बांधा।

नई दिल्ली से फ़्लाईट की आमद में दो घंटे ताख़ीर के सबब कारकुनों को बेगमपेट अर पोर्ट और गुण पार्क पर काफ़ी इंतिज़ार करना पड़ा। सुबह ही से दोनों मुक़ामात पर सैंकड़ों की तादाद में टी आर एस कारकुन जमा थे और रक़्स और तेलंगाना के गानों के साथ के सी आर की आमद का इंतिज़ार कररहे थे।

जैसे ही चन्द्र शेखर राव‌ का हैलीकाप्टर शमसआबाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट से रवाना हुआ, बेगमपेट एयरपोर्ट पर जश्न का आग़ाज़ होगया और हैलीकाप्टर की लैंडिंग के साथ ही जश्न उरूज पर पहुंच गया।

अपने क़ाइद की एक झलक देखने और उन से मुसाफ़ा करने के लिए क़ाइदीन और कारकुन एक दूसरे पर सबक़त ले जाने की कोशिश कररहे थे। सख़्त सेक्यूरिटी में के सी आर एयरपोर्ट से बाहर आए और उन्हें फ़ौरी विजय रथम पर सवार कर दिया गया।

चन्द्र शेखर राव‌ ने विजय रथम पर अपने किसी रिश्तेदार को सवार नहीं किया जबकि जलूस में के टी रामा राव‌, हरीश राव‌ और कवीता मौजूद थे।

रियाली पर हेलीकाप्टर के ज़रीये फूल बरसाए गए। पार्टी ने दो हेलीकाप्टर की ख़िदमात हासिल कीं जिन के ज़रीये 8 टन फूल रियाली पर निछावर किए गए। पहले तए शूदा प्रोग्राम के मुताबिक़ गुण पार्क पर फूलों की बारिश की जानी थी लेकिन रियाली के आग़ाज़ में ताख़ीर और शाम होजाने से बचने के लिए रियाली के रास्तों पर भी हेलीकाप्टर के ज़रीये फूल निछावर किए गए।

चन्द्र शेखर राव‌ ने रियाली के रास्ते में कहीं भी अवाम से ख़िताब नहीं किया और ना ही गुलपोशी के लिए रथ को रोका हालाँकि जगह जगह टी आर एस कारकुनों और तेलंगाना हामीयों की तरफ से ख़ौरमक़दम किया गया। रियाली के रास्ता में मौजूद कई दुकानदारों ने भी के सी आर का इस्तिक़बाल किया।

चन्द्र शेखर राव‌ के जगह जगह आवेज़ां किए गए कट आओटस में बाज़ मुक़ामात पर उन्हें भगवान के रूप में पेश किया गया। टी आर एस के कारकुनों अपने क़ाइद को तेलंगाना जाती पता ( बाबाए क़ौम तेलंगाना ) के नारे लगा रहे थे।

तेलंगाना जागृति की सदर और के सी आर की दुख़तर कवीता ने तेलंगाना भवन से एक बड़ी मोटर साइकिल रियाली का आग़ाज़ किया था जो बेगमपेट एयरपोर्ट पहुंची। मुख़्तलिफ़ अज़ला से आए हुए तेलंगाना कारकुनों की गाड़ीयों की पार्किंग इन के खाने का इंतेज़ाम किया गया थ

TOPPOPULARRECENT