Monday , October 23 2017
Home / Khaas Khabar / कैट के नतीजे : 8 स्टूडेंट्स को मिले 100 %

कैट के नतीजे : 8 स्टूडेंट्स को मिले 100 %

आईआईएम और दिगर बिजनेस स्कूलों में दाखिले के लिए हुई Joint Entrance Examination (कैट) का नतीजा मंगल के रोज़ ऐलान हो गया है इस इम्तेहान में 8 स्टूडेंट्स को 100 पर्सेंट मिले हैं नतीजा जानने जानने के लिए स्टूडेंट्स WWW.CAT2013.IIMIDR.AC.in पर लॉग आन कर सकते हैं |

आईआईएम और दिगर बिजनेस स्कूलों में दाखिले के लिए हुई Joint Entrance Examination (कैट) का नतीजा मंगल के रोज़ ऐलान हो गया है इस इम्तेहान में 8 स्टूडेंट्स को 100 पर्सेंट मिले हैं नतीजा जानने जानने के लिए स्टूडेंट्स WWW.CAT2013.IIMIDR.AC.in पर लॉग आन कर सकते हैं |

कैट 2013 के को-आर्डिनेटर प्रोफेसर रोहित कपूर ने बताया कि सभी आठ स्टूडेंट्स लड़के हैं और इंजीनियरिंग बैकग्राउंड के हैं इनमें से छह आईआईटी के स्टूडेंट हैं उन्होंने बताया कि 10 स्टूडेंट्स को 99.9 पर्सेंट मिला है इनमें से एक तालिबा है 40 शहरों के 76 इम्तेहान मरकज़ पर कैट 2013 मुनाकिद किया गया था |

इस इम्तेहान का इंइकाद 16 अक्तूबर से 11 नवंबर 2013 तक 20 दिन में कराया गया कुल 1.94 लाख स्टूडेंट्स ने र्जिस्ट्रेशन कराया था और 1.74 लाख स्टूडेंट्स ने इम्तेहान दिये थे |

स्टूडेंट्स को सलाह दी जाती है कि वे अपने स्कोर कार्ड की प्रिंट निकाल लें |

कॉमन एडमिशन टेस्ट(कैट) का नतीजा मंगल के रोज़ ऐलान हुआ हालांकि यह फाइनल नतीजा नहीं है क्योंकि इसके बाद ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू भी इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम) लेंगे, जिसके बाद फाइनल रिजल्ट आएगा | भोपाल से इस टेस्ट में अभिषेक सिंह ने 99.83 पर्सेंट हासिल किया |

भोपाल से शायद आईआईएम कॉल तकरीबन 50 स्टूडेंट्स को आ सकती है |

लेकिन जिन स्टूडेंट्स के मार्क्स दसवीं, बारहवीं और ग्रेजुएशन में 80 फीसदी से कम होंगे उन्हें कॉल नहीं आएगी | दरअसल, आईआईएम अब वर्किंग प्रोफेशनल्स को आईआईएम मौके देने की बजाए फ्रेशर्स को मौका देना चाहते हैं यही वजह है कि अब एकेडमिक बैकग्राउंड देखा जा रहा है |

कैट स्कोर भले ही 99 पर्सेंट से ज़्यादा हो लेकिन दसवीं, बारहवीं और ग्रेजुएशन का कम स्कोर आईआईएम की रेस से बाहर कर सकता है |

तपेश सक्सेना ने जबलपुर से प्रॉडक्शन इंजीनियरिंग की है और दो साल से कैट की तैयारी कर रहे हैं साल 2012 में कैट कोचिंग पर फैकल्टी रहते हुए भी इस इम्तेहान को क्रेक किया लेकिन अगस्त में वालिद के गुजर जाने के सबब आईआईएम में इंटरव्यू देने नहीं जा सके |

उस वक्त तपेश को सात आईआईएम से इंटरव्यू कॉल आया था 2013 कैट के लिए तपेश ने जॉब छोड़कर पूरा वक्त कैट की तैयारी में निकाल दिया और शहर में टॉप किया |

कैट के पहले सेक्शन में उन्हें 99.09 और दूसरे सेक्शन में 79.77 पर्सेंट हासिल हुए हैं तपेश कहते हैं, मैं आईआईएम अहमदाबाद और कोलकाता में दाखिला चाहता हूं और उम्मीद है कि यहां का ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू भी क्रेक कर लूंगा मेरे सेलेक्शन में तीन चीजें खास रहीं, जिस सब्जेक्ट में कम स्कोर किया उसके लिए दोगुनी मेहनत की और सभी चीजें छोड़कर बस तैयारी पर फोकस किया |

TOPPOPULARRECENT