Monday , October 23 2017
Home / Featured News / कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब में शक्तिशाली कांग्रेसी नेता

कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब में शक्तिशाली कांग्रेसी नेता

चंडीगढ़: कांग्रेस के एक शक्तिशाली क्षेत्रीय नेता अमरिंदर सिंह ने पार्टी को पंजाब में जबरदस्त राजनीतिक व चुनावी संघर्ष के बाद सत्ता में वापस लाया है, जिसके दौरान शिरोमणि अकाली दल को पराजित हुई और आम आदमी पार्टी का दिल्ली बाहर अपने पैर जमाने का सपना बिखर गया।

75 वर्षीय अमरिंदर जो प्रतिष्ठित और लोकप्रिय नेता हैं, उन्होंने कांग्रेस को जबरदस्त सफलता दिलाते हुए 117 सदस्यीय विधानसभा में 77 सीटों का अधिग्रहण सुनिश्चित और दूसरी बार मुख्यमंत्री पद पर आसीन हो गए। पंजाब में कैप्टन अमरिंदर की 10 साल बाद जीत ने इस प्राचीन पार्टी के पुनरुद्धार की उम्मीदें भी स्थादी हैं।

नेताओं की ऐसी अनोखी पीढ़ी से संबंधित अमरिंदर जिन्होंने भारत। पाक युद्ध का कार्रवाई देखा है, उन्हें इस बार अकाली दल प्रमुख प्रकाश सिंह बादल सरकार के खिलाफ सफलता हासिल हुई। वह 2007 और 2012 में अपने प्रयासों में प्रकाश सिंह बादल को नहीं हरा पाए थे। कभी अकाली दल के नेता रह पटियाला के सपूत ने 1965 की लड़ाई लड़ी थी जबकि वह अपने इस्तीफे के कुछ महीनों बाद फिर से सेना में शामिल हो गए थे।

युद्ध के अंत में वह बहादुर सिपाही के रूप में सेना से फिर इस्तीफा दे गए। पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष और पटियाला एमपी परीनयत कोर पति अमरिंदर सिंह पटियाला के दिवंगत महाराजा यादव अंदर सिंह के पुत्र हैं। उनका राजनीतिक करियर जनवरी 1980 में शुरू हुआ जब वह सांसद चुने गए लेकिन वह 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के दौरान स्वर्ण गुरुद्वारे में सेना के घुस आने के खिलाफ बतौर विरोध कांग्रेस और लोकसभा से इस्तीफा दे दिया था।

TOPPOPULARRECENT