Saturday , August 19 2017
Home / Delhi / Mumbai / कैराना समस्या को सांप्रदायिक रंग न देने केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान की सलाह

कैराना समस्या को सांप्रदायिक रंग न देने केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान की सलाह

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में जिला श्यामल के क्षेत्र कैराना में कानून व्यवस्था की समस्या की वजह से हिंदुओं के साथ कुछ मुस्लिम परिवार भी तख़लिया हो गया है। केंद्रीय मंत्री संजीव बिल्लियों ने आज यह दावा किया है। उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पहली बात यह है कि मैं कैराना का दौरा नहीं किया है, दूसरी बात यह है कि तुम लोग (मीडिया) देख सकते हो कि राज्य में कानून व्यवस्था की समस्या पाया जाता है और यह उचित होगा कि विस्थापन, इस दृष्टिकोण दे देखा जाए और मेरी जानकारी के अनुसार यह न केवल हिंदुओं की समस्या है बल्कि कुछ मुस्लिम परिवार भी यहां से तख़लिया चुके हैं।

केंद्रीय मंत्री संजीव बिल्लियों कि संसदीय क्षेत्र मुजफ्फरनगर का प्रतिनिधित्व करते हैं कहा है कि विस्थापन की समस्या केवल कैराना क्षेत्र तक सीमित नहीं है और इस समस्या को सांप्रदायिक रंग देना भी गलत है। उन्होंने बताया कि यह एक कानून व्यवस्था की समस्या है जिसे धार्मिक रंग नहीं दिया जा सकता।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उनका यह टिप्पणी भाजपा टीम प्रदान सूचनाओं के आधार पर कर रहे हैं जिसने कैराना में स्थिति का जायजा लिया था। मैं टीम के सदस्यों से बातचीत की है जो स्थिति की समीक्षा कर यह निष्कर्ष निकाला है कि कानून व्यवस्था की समस्या के कारण स्थानीय लोगों ने पलायन किया है।

स्पष्ट है कि उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं जिसके मद्देनजर मतदाताओं के संरेखण के लिए समस्याओं और विवादों छिड़े जा रहे हैं। पिछले सप्ताह भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात कर कैराना से हिंदुओं के पलायन की सीबी  जांच करवाने की मांग की है इस क्षेत्र सम्बंध पार्टी तथ्य पता करने वाली टीम की रिपोर्ट भी गाया।

जबकि शासक सामाजिक और पार्टी और कांग्रेस ने उक्त टीम की रिपोर्ट को हास्यास्पद करार दिया और आरोप लगाया कि भाजपा की स्थिति को तनावपूर्ण बनाने की कोशिश में है इसके अलावा भाजपा विधायक संगीत सोम ने राज्य सरकार को अल्टीमेटम दिया कि कैराना क्षेत्र से तख़लिया करनीवालों फिर वापस लाया जाए।

TOPPOPULARRECENT