Thursday , August 17 2017
Home / India / ‘होली’ में कोई मुस्लिम लड़के हिन्दू लड़की को छेड़ न सके, VHP ने तैनात किए सेना

‘होली’ में कोई मुस्लिम लड़के हिन्दू लड़की को छेड़ न सके, VHP ने तैनात किए सेना

मेरठ। भाईचारे के त्योहार होली पर भी वीएचपी ने एक फरमान जारी किया है। विश्व हिंदू परिषद ने कहा है कि इस बार होली पर हिंदू लड़कियों की सुरक्षा की जाएगी ताकि कोई मुस्लिम नहीं लड़का उन्हें छेड़ न दे।  परिषद ने कहा कि  इस बार होली के मद्देनजर 10-15 युवाओं के अलग-अलग दल बनाए जाएंगे। एक न्यूज़ पोर्टल के अनुसार ये दल हिंदू समुदाय की लड़कियों के साथ छेड़छाड़ और होली के मौके पर लव जेहाद की कोशिशों पर नजर रखेंगे और लड़कियों की ‘रक्षा’ करेंगे। हिंदू युवाओं के ये दल मेरठ जिले के लगभग 400 गांवों में सक्रिय रहेंगे। कहा गया है कि अगर हिंदू बेटियों और बहनों के सम्मान को खतरा हुआ, तो ऐसी स्थिति में ये युवा दल किसी भी तरह की लड़ाई से भी पैर पीछे नहीं करेंगे।

 वीएचपी की इस घोषणा को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी खिन्नता दिखाई। उन्होंने कहा, मुझे यह जानकर कोई आश्चर्य नहीं हुआ है। विश्व हिंदू परिषद जैसे संगठनों का मकसद ही होता है कि पहले सांप्रदायिकता फैलाई जाए और फिर धार्मिक लामबंदी की जाए। छेड़खानी रोकने के नाम पर वह सीधे तौर पर अल्पसंख्यकों को निशाना बनाना चाहते हैं। यह रणनीति बीजेपी की बनाई हुई है। यह दुखद है कि समाजवादी पार्टी भी ऐसे तत्वों के खिलाफ नर्मी दिखा रही है। हमने देखा कि किस तरह राज्य सरकार ने मुजफ्फरनगर दंगों में शामिल तत्वों को क्लीन चिट दिया। समाजवादी पार्टी और बीजेपी दोनों का मकसद सांप्रदायिकता का फायदा उठाना है।

liveindia.hindi.com से मिली खबर के मुताबिक मेरठ में वीएचपी के सचिव गोपाल शर्मा ने  बताया, कुछ असामाजिक तत्व होली के पवित्र त्योहार का इस्तेमाल हमारे समुदाय की लड़कियों के साथ छेड़खानी करने में करते हैं।इलाके में इस तरह की घटनाएं बढ़ रही हैं और इस सिलसिले में होली काफी संवेदनशील मौका है। हमने फैसला किया कि हमारे द्वारा इस बारे में कदम उठाया जाना जरूरी हो गया है। हम 10-15 युवाओं के दल बनाएंगे। ये युवा वीएचपी और बजरंग दल के सदस्यों में से ही चुने जाएंगे।मेरठ जिले में लगभग 600 गांव हैं। सभी गांवों तक पहुंच पाना हमारे लिए संभव नहीं हो सकेगा। ऐसे में हम करीब 400 गांवों के लिए दल का गठन करेंगे।

गोपाल ने आगे कहा, ‘ये दल एक गांव से दूसरे गांव नहीं जाएंगे। एक दल केवल एक गांव पर ही नजर रखेगा। जिन जगहों पर होली मनाई जा रही होगी, वहां हमारे युवा खड़ेल रहेंगे और हमारी महिलाओं की रक्षा करेंगे। ये असामाजिक तत्व जब बजरंग दल के सदस्यों को खड़ा देखेंगे, तो ऐसी हरकतें करने से पहले दो बार सोचेंगे।

 

TOPPOPULARRECENT