Sunday , August 20 2017
Home / Jharkhand News / कोटालपोखर लैम्पस में लाखों का घोटाला उजागर

कोटालपोखर लैम्पस में लाखों का घोटाला उजागर

बरहरवा : कोटालपोखर लैम्पस में लाखों रुपये के घोटाला का मामला उजागर हुआ है। ब्लॉक कॉओपरेटिव ओहदेदार वेद प्रकाश ने कोटालपोखर थाना में दरख्वास्त देकर कहा है कि साल 2011-12 में धान हासिल के लिए सरकार की तरफ से 64 लाख रुपये रकम की धान खरीद के लिए दिया गया था। जिसमें से लैम्पस के पास 2 लाख 16 हजार 68 रुपये 14 पैसे धान खरीदने के बाद बच गया था, लेकिन लैम्पस की तरफ से ये रकम नहीं लौटायी गयी।

फिर साल 2012-13 में सरकार की तरफ से कोटालपोखर लैम्पस को 1 करोड़ 25 लाख रुपये धान के लिए रकम दस्तयाब कराया गया था। जिसमें से लैम्पस की तरफ से 65 लाख 30 हजार रकम की धान हासिल की गयी और 8 लाख 26 हजार 8 सौ 86 रुपये लैम्पस की तरफ से महकमा को वापस कर दिया गया। बाकी 51 लाख 43 हजार 114 रुपये रकम की धान लैम्पस की तरफ से खरीदा नहीं गया और न ही ये रकम महकमा को वापस की गयी।

इस तरह साल 2011-12 और 2012-13 में कुल मिलाकर 53 लाख 59 हजार 182 रुपये 14 पैसे का धान नहीं खरीद कर कोटालपोखर लैम्पस की रकम को मौजूदा सदर खगेन्द्र उरांव वालिद रजनी उरांव ग्राम-दुखियाटोला, मौजूदा सेक्रेटरी भगवती साह वालिद मरहूम हरिनारायण साह ग्राम कोटालपोखर, मौजूदा सेक्रेटरी सपन वैक्का वालिद -मंगरू वैक्का ग्राम-बेलपहाड़ी व मौजूदा मेम्बर ललित कुमार सिंह वालिद -राजकुमार सिंह ग्राम-कोटालपोखर ये लोगों ने लैम्पस की सरकारी रकम का गबन किया है।

बीसीओ वेद प्रकाश के हासिल दरख्वास्त की बुनियाद पर कोटालपोखर थाना पुलिस ने सरकारी रकम गबन करने के इल्ज़ाम में चार लोगों के खिलाफ दफा 195/15 दफा 420,406,409,34 भादवी के तहत मामला दर्ज कर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। कोटालपोखर थाना इंचार्ज अशोक कुमार ने बताया कि सरकारी रकम गबन के इल्ज़ाम में चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.

TOPPOPULARRECENT