Sunday , October 22 2017
Home / Delhi News / कोर्ट के तब्सिरे ग़लत: केजरीवाल‌

कोर्ट के तब्सिरे ग़लत: केजरीवाल‌

दिल्ली के वज़ीर-ए-आला अरविंद केजरीवाल ने मंगल को अपने वज़ीर-ए-क़ानून सोमनाथ भारती का बचाव‌ किया और कहा कि उनकी हुकूमत के वज़ीर सोमनाथ भारती ने सबूतों के साथ छेडछाड नहीं की है| मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक़, सोमनाथ और उनके मुअक्कि

दिल्ली के वज़ीर-ए-आला अरविंद केजरीवाल ने मंगल को अपने वज़ीर-ए-क़ानून सोमनाथ भारती का बचाव‌ किया और कहा कि उनकी हुकूमत के वज़ीर सोमनाथ भारती ने सबूतों के साथ छेडछाड नहीं की है| मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक़, सोमनाथ और उनके मुअक्किल पवन कुमार पर बदउनवानी के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा चल रहा है|

सी बी आई की तरफ़ से उन पर इस्तिग़ासा के एक गवाह से फ़ोन पर बात कर उसे मुतास्सिर करने का इल्ज़ाम लगाए जाने के बाद उन पर ये मुक़द्दमा दर्ज किया गया है| अरविंद ने सहाफियों को बताया कि सोमनाथ भारती जूनियर सतह के एक अफ़्सर को बचाने की कोशिश कर रहे थे, और इसके लिए किए गए अस्टिंग को जजों ने सबूतों से छेडछाड कहा है|

केजरीवाल ने कहा कि कोर्ट की ये तबसरा ग़लत है| अरविंद ने मज़ीद कहा कि हम वीडियो रिकार्ड देने के लिए तैयार हैं| आप ख़ुद उसे देख कर बताएं कि सबूतों से छेडछाड कहाँ हुई है| मैंने सोमनाथ से रिकार्डिंग को मीडिया में देने के लिए कह दिया है| अरविंद ने सोमनाथ के मुआमले की तफ़सीलात देते हुए कहा कि हमें इस पूरे मुआमले को समझने की ज़रूरत है| ये 100 करोड़ रूपियों के बदउनवानी का मुआमला है|

ये बदउनवानी एक बैंक के ही अंदर हुआ है| उन्होंने बताया कि जब भी कोई कुछ फ़रोख्त करता है, तो एक क़र्ज़ ख़त हासिल करता है| इस मुआमले में फ़र्ज़ी क़र्ज़ ख़त दिए गए और बैंक के कई सीनियर आफ़िसरान इस में शामिल‌ हैं| अरविंद ने ये भी कहा कि सी बी आई ने जूनियर सतह के एक अफ़्सर पवन कुमार को क़ुर्बानी का बकरा बना कर गिरफ़्तार कर लिया है| अरविंद ने कहा कि बैंक में तमाम इस तरह‌ की ही बात कर रहे हैं कि पवन कुमार को फंसाया गया है| पवन ने तमाम आली हुक्काम को बताया|

TOPPOPULARRECENT