Thursday , March 30 2017
Home / Assam / West Bengal / कोलकाता में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को सभा के लिए नहीं मिली अनुमति

कोलकाता में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को सभा के लिए नहीं मिली अनुमति

कोलकाता। नोटबंदी के विरोध और रोजवैली कांड में तृणमूल सांसदों की गिरफ्तारी के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच टकराव के बीच कोलकाता पुलिस ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक मोहन भागवत को पोर्ट इलाके के भू-कैलाश रोड स्थित मैदान में सभा करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। श्री भागवत का 14-15 जनवरी को दो दिवसीय कोलकाता दौरे का कार्यक्रम है।

14 जनवरी को भू-कैलाश में आरएसएस के स्वयंसेवकों व अन्य सहयोगी संस्थाओं के समर्थकों की सभा को संबोधित करने का कार्यक्रम है। 15 जनवरी को श्री भागवत की अध्यक्षता में आरएसएस के राज्य मुख्यालय केशव भवन में आरएसएस के पदाधिकारियों की बैठक है। इस बैठक में राज्य की स्थिति, राज्य में आरएसएस विस्तार व चुनौतियां सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा होनी है।

आरएसएस के प्रांत कार्यवाह डॉ जिष्णु बसु ने बताया कि 14 जनवरी को भू-कैलाश में आरएसएस स्वयंसेवकों की सभा है। सरसंघचालक मोहन भागवत व सर कार्यवाह वी भगैया आरएसएस स्वयंसेवकों के साथ-साथ सहयोगी संगठनों के समर्थकों को संबोधित करेंगे। उन्होंने कहा कि हाल में पश्चिम बंगाल के विभिन्न इलाकों में घटी घटनाओं को लेकर राज्य सरकार और पुलिस की भूमिका निंदनीय रही है। सभा व सांगठनिक बैठक में राज्य की स्थिति, संगठन के विस्तार व चुनौतियों को लेकर विस्तृत चर्चा होगी और भविष्य की रणनीति तय की जायेगी। पिछले दो वर्षों के दौरान राज्य में आरएसएस का आधार बढ़ा है।

डॉ बसु ने बताया कि 2013 में स्वामी विवेकानंद के जन्म शतवार्षिक कार्यक्रम का आयोजन राज्य के नदिया जिले में किया गया था। उस समय में राज्य में शाखाओं की संख्या 750 थी, 2016 में यह लगभग दुगना बढ़ कर 1500 के आसपास हो गयी है तथा महानगर के सभी वार्डों में आरएसएस की शाखाएं लग रही हैं। इस साफ है कि राज्य में आरएसएस की लोकप्रियता में इजाफा हो रहा है। 2013 के बाद राज्य में आरएसएस की बड़े स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन हो रहा है।

श्री भागवत की सभा के जरिये आरएसएस अपनी पकड़ और मजबूत करने की कोशिश कर रही है, लेकिन पुलिस श्री भागवत की खुली सभा को अनुमति देने के मूड में नहीं है। पुलिस का कहना है कि यदि भू कैलाश में सभा होती है, तो इससे इलाके में कानून व्यवस्था बिगड़ने की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। आरएसएस के स्वयंसेवकों की ओर से दिसंबर के अंतिम सप्ताह में सभा की अनुमति के लिए पुलिस को पत्र दिया गया था, लेकिन अभी तक पुलिस द्वारा सभा की अनुमति नहीं मिली है। इससे श्री भागवत की सभा को लेकर अनिश्चितता की स्थिति बन गयी है।

इस संबंध में कोलकाता पुलिस के डीसी (पोर्ट) सुदीप सरकार ने कहा कि सभा की अनुमति संबंधित फाइल लालबाजार पुलिस मुख्यालय को भेजी गयी थी, लेकिन अब तक पुलिस मुख्यालय द्वारा सभा की अनुमति नहीं मिली है। अनुमति नहीं मिलने के कारण सभा के आयोजन के लिए मना किया गया है। दूसरी ओर, कोलकाता पुलिस के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त विनीत गोयल का कहना है कि अभी तक श्री भागवत की सभा से संबंधित कोई फाइल उनके पास नहीं आयी है। फाइल देखने के बाद ही वह इस बारे में कोई टिप्पणी कर पायेंगे।

आरएसएस पदाधिकारियों का कहना है कि कोलकाता पुलिस द्वारा सभा को लेकर लिखित रूप से अभी तक कोई जवाब नहीं दिया गया है, लेकिन मौखिक रूप से सभा की अनुमति देने से इनकार कर दिया गया है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT