Friday , September 22 2017
Home / Election 2017 / क्या अखिलेश की साईकिल पर बैठकर चुनाव लड़ने को तैयार है कांग्रेस?

क्या अखिलेश की साईकिल पर बैठकर चुनाव लड़ने को तैयार है कांग्रेस?

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी पर वर्चस्व को लेकर लगभग दो महीने तक चले शह मात के खेल में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने पिता मुलायम सिंह यादव को पछाड़ कर अंतत: पार्टी और साइकिल हासिल कर ली। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज सूबे के मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव कांग्रेस के साथ गंठबंधन का एलान कर सकते हैं।

जानकारों की मानें तो गंठबंधन की पटकथा पहले ही लिखी जा चुकी है अब केवल इसको अमलीजामा पहनाया जाना बाकी है। इसके संकेत कल अखिलेश की जीत के बाद सपा नेता रामगोपाल यादव दे चुके हैं।

कुछ दिन पूर्व ही सपा नेता और कन्नौज की सांसद डिंपल यादव ने प्रियंका गांधी से मिलकर गंठबंधन की खबर को और हवा दे दी। प्रियंका गांधी को उनके जन्मदिन पर बधाई देकर डिंपल और सीएम अखिलेश ने यह साबित कर दिया था कि दोनों पार्टियों के बीच बहुत कुछ हो चुका है केवल गंठबंधन का औपचारिक ऐलान बाकी है। कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी ऐसे संकेत कुछ दिन पूर्व पार्टी के एक कार्यक्रम में दिया था। उन्होंने कांग्रेस के एक कार्यक्रम में सपा के साथ गंठबंधन पर कहा था कि यूपी में सबकुछ अच्छा होगा।

इधर इस गंठबंधन के पहले चुनाव आयोग ने सोमवार को अखिलेश खेमे को असली समाजवादी पार्टी करार देते हुए उन्हें साइकिल चुनाव चिह्न आवंटित कर दिया। इस तरह से 25 साल पहले बनी समाजवादी पार्टी अखिलेश की हो गयी। उन्हें इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर मान्यता मिल गयी।

TOPPOPULARRECENT