Sunday , October 22 2017
Home / Delhi News / क्या दलितों का मूल्य जानवरों से भी कम है?- उदित राज

क्या दलितों का मूल्य जानवरों से भी कम है?- उदित राज

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के सांसद उदित राज ने रविवार को ‘हिंदू धर्म के रक्षकों’ और ‘राष्ट्रवाद के प्रस्तावकों’ को हाल में हुए दलितों पर हमले को लेकर जमकर फटकार लगाई। उन्होंने पूछा कि दलितों का मूल्य क्या जानवरों से भी कम है? सांसद ने कहा कि यह आश्चर्यजनक है कि कुछ गौरक्षक मानते हैं कि दलितों के जीवन का मूल्य उससे भी कम है। कुछ जगहों पर दलितों के मंदिरों में प्रवेश पर प्रतिबंध है। कुछ जगहों पर मरी हुई गाय की खाल उतारने के लिए दलितों की हत्या की जा रही है और कुछ जगहों पर दलितों के गुस्से के का इजहार करने पर उनका शोषण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि हिंदू धर्म के कथित रक्षकों को हर हाल में इसका जवाब देना चाहिए कि क्या वे मानते हैं कि दलितों के जीवन का मूल्य जानवरों से भी कम है? उदित राज ने 19वें अखिल भारतीय अनुसूचित जाति/ जनजाति महासंघ के राष्ट्रीय सम्मेलन के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उदित ही इस संगठन के अध्यक्ष हैं। भाजपा सांसद ने यह भी सवाल किया कि हिंदू धर्म की रक्षा करने वाले दलितों के खिलाफ अत्याचार की घटनाओं के विरोध में क्यों नहीं आगे आते?

TOPPOPULARRECENT