Sunday , October 22 2017
Home / India / क्या नेहरू , इंदिरा भी तानाशाह थे: BJP

क्या नेहरू , इंदिरा भी तानाशाह थे: BJP

नई दिल्ली। नरेन्द्र मोदी की हुकूमत पर "तानाशाही रुझहान" और "आर्डिनेंस के जरिए" हुकूमत चलाने के कांग्रेस सदर सोनिया गांधी के इल्ज़ामात पर पलटवार करते हुए भाजपा ने बुध के रोज़ उनसे सवाल किया कि क्या वह पंडित जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा ग

नई दिल्ली। नरेन्द्र मोदी की हुकूमत पर “तानाशाही रुझहान” और “आर्डिनेंस के जरिए” हुकूमत चलाने के कांग्रेस सदर सोनिया गांधी के इल्ज़ामात पर पलटवार करते हुए भाजपा ने बुध के रोज़ उनसे सवाल किया कि क्या वह पंडित जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी को भी “तानाशाह” मानेंगी जिनकी हुक्मरानी के वक्त 70 और 195 आर्डिनेंस जारी हुए। पार्लिमानी अफेयर्स मिनिस्टर एम वेंकैया नायडू ने कहा कि इंदिरा गांधी के पीएम रहते 195 आर्डिनेंस जारी हुए थे और पहले वज़ीर ए आज़म जवाहरलाल नेहरू के वक्त 70 आर्डिनेंस ।

उन्होंने कहा कि “सोनिया गांधी को साफ करना चाहिए कि नेहरू तानाशाह थे या डेमोक्रेटिक इंदिरा गांधी को वह क्या कहेंगे क्या वह तानाशाह थीं” नायडू ने कहा कि 1971 से 1977 के दौरान तो इंदिरा गांधी के इक्तेदार के दौरान में रिकार्ड 99 आर्डिनेंस जारी हुए यानी हर तीन महीने पर दो आर्डिनेंस । उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की हुकूमत के वक्त 35 आर्डिनेंस जारी हुए और इन सभी की सरकारों को आवाम की ताईद हासिल थी ।

कांग्रेस सदर सोनिया गांधी ने कल कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में मोदी सरकार पर “तानाशाही रुझहान” वाला होने का इल्ज़ाम लगाते हुए कहा था वह पार्लियामेंट को नजरअंदाज करके आर्डिनेंस से कानून बनाने का रास्ता अपना रही है। नायडू ने कहा कि कांग्रेस सरकारों ने ही नहीं बल्कि उसकी हिमायत से चलने वाली युनाइटेड फ्रंट ने भी 1996 से 1998 के बीच 77 आर्डिनेंस जारी किए थे।

मोदी सरकार की ओर से जारी आर्डिनेंस पर कांग्रेस सदर की तन्कीद को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि अपोजिशन की तरफ से पार्लियामेंट की कार्यवाही ठप्प कर देने और राज्यसभा में काम नहीं करने देने के सबब सरकार आर्डिनेंस जारी करने पर “पाबंद” हुई है।

पार्लीमानी अफेयर्स मिनिस्टर ने हालांकि कहा कि आर्डीनेंस के बारे में हुकूमत अपोजिशन की फिक्रो पर गौर करेगी और पार्लियामेंट के आइंसा सेशन में उन्हें मंजूरी दिलाने के वक्त इसको दूर करेगी।

TOPPOPULARRECENT