Wednesday , August 16 2017
Home / Sports / क्रिकेट के नाम पर लूट, ऑडिट रिपोर्ट में हुआ खुलासा

क्रिकेट के नाम पर लूट, ऑडिट रिपोर्ट में हुआ खुलासा

दिल्ली : क्रिकेट के नाम पर लूट का एक और मामला सामने आया है। ऑडिट रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन ने अंडर-19 मैच के खिलाड़ियों के लिए जिस कंपनी को वेंडर दिए थे उसे 2600 प्लेट भोजन के लिए पेमेंट किया गया। इसके अलावा जूनियर टीम के हवाई टिकट के लिए एक ही विमान के लिए दो-दो वेंडर्स को भुगतान किया गया। इसके अलावा फर्नीचर, लैपटॉप खरीद में घोटाला हुआ है। क्लब के सेक्रेटरीज के परिवार के मेडिकल इंश्योरेंस के लिए भी 40 लाख रुपये खर्च किए गए।

इतना ही नहीं एसोसिएशन के एग्जिक्यूटिव कमिटी के सदस्यों के लिए सोने के सिक्के भी खरीदे गए। एसोसिएशन पर बिजली चोरी के भी आरोप हैं। यह खुलासा एक ऑडिट रिपोर्ट में हुआ है। ऑडिट करने वाली अकाउंटिंग फर्म को बीसीसीआई ने 31 मार्च 2015 तक सभी स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन का खाता-बही जांच करने का काम दिया था।
इंडियन एक्सप्रेस के हाथ लगी हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन की ऑडिट रिपोर्ट में और भी गड़बड़ियों का खुलासा हुआ है। एसोसिएशन ने कई अनजान लोगों और एसोसिएशन मेंबर से अनसेक्योर्ड लोन लिया और उसे फिर भुगतान किया। कई फर्जी चेक से भुगतान का भी मामला सामने आया है। इसके अलावा वास्तविक और बजट राशि में अनियमितता पाई गई है। हद तो तब हो गई जब उप्पल स्टेडियम में एक कैनोपी लगाने के लिए 24.30 करोड़ रुपये खर्च किए गए।

हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन में जब ये घोटाले हुए तब कई हाई प्रोफाइल क्रिकेटर और दिग्गज नेता वहां पावर में थे। ऑडिट में एसोसिएशन के खिलाफ 87.91 करोड़ के वित्तीय अनियमितताओं की चल रहे एंटी करप्शन ब्यूरो की जांच का भी उल्लेख किया गया है। फिलहाल अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर अरशद अयूब हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री किरण कुमार रेड्डी हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन में एग्जिक्यूटिव मेंबर थे। पूर्व ओपनर एम वी श्रीधर एचसीए के सचिव और मौजूदा बीसीसीआई मैनेजर, यानी दो पदों पर तैनात हैं।

TOPPOPULARRECENT