Sunday , September 24 2017
Home / India / खड़से के लिए RSS के दरवाजे बंद, भागवत ने नहीं दिया मिलने का समय

खड़से के लिए RSS के दरवाजे बंद, भागवत ने नहीं दिया मिलने का समय

नागपुर: भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर सवालों की चपेट में आए महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री एकनाथ खड़से के लिए अब आरएसएस के दरवाजे बंद हो गए हैं। सूत्रों से मिली खबर के अनुसार कुर्सी बचाने की कोशिश में लगे हुए महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ खड़से को आरएसएस प्रमुख भागवत और गडकरी ने मिलने के लिए समय नहीं दिया है। वह नागपुर में संघ प्रमुख से मुलाकात करने पहुंचे थे। नितिन गडकरी खड़से से मिले बिना ही मुंबई के लिए निकल गए।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

जबकि भागवत के दिन भर के कार्यक्रम में खड़से से मुलाकात का कार्यक्रम ही नहीं था. खड़से के खिलाफ कार्रवाई की बात तभी तय हो गई थी, जब राज्य के मुख्यमंत्री फडणवीस ने प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की और कहा कि इस मामले में पार्टी ‘उचित कार्रवाई करेगी। बाद में पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि खड़से के खिलाफ कार्रवाई होगी, हालांकि यह ‘आज नहीं होगी। उन्होंने संकेत दिया कि कार्रवाई आने वाले समय में हो सकता है .

अमित शाह से मुलाकात के बाद फडणवीस ने संवाददाताओं से कहा था कि ‘मैंने मामले की रिपोर्ट सौंप दी है जो हाल में सामने आई है। हमने उन पर चर्चा भी की। पार्टी फैसला करेगी कि क्या करना है। ‘पुणे में सरकारी एम आई डी सी जमीन औने-पौने दाम में खरीदनने पर खड़से पर उनके राजनीतिक विरोधियों और भाजपा की सहयोगी शिवसेना ने आरोप लगाए हैं। जमीन की कीमत 40 करोड़ रुपये बताई गई है.

खड़से पर यह भी आरोप है कि उनके पास दाऊद इब्राहिम के साथी का फोन आया था। महाराष्ट्र के इस वरिष्ठ मंत्री ने अपने खिलाफ लगे आरोपों से इनकार किया है। इस बीच खड़से के लिए इस समय अधिक मुश्किल पैदा हो गई जब एक चैनल ने स्टिंग ऑपरेशन किया, जिसमें एक पुलिस अधिकारी दावा कर रहा है कि खड़से ने विह्स्ल ब्लोअर हेमंत गवानदे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए दबाव बनाया था।

TOPPOPULARRECENT