Sunday , September 24 2017
Home / Bihar News / खुद को तंत्र-मंत्र के खिलाफ एलान करें मोदी : नीतीश

खुद को तंत्र-मंत्र के खिलाफ एलान करें मोदी : नीतीश

पटना : बिहार में अजीम इत्तिहाद और एनडीए के दरमियान जबदस्त टक्कर होने की बात को सिरे से खारिज करते हुए नीतीश कुमार ने जुमेरात को भाजपा पर जमकर हमला बोला है। अजीम इत्तिहाद के लीडर नीतीश कुमार ने भाजपा पर पब्लिसिटी तकनीक का इस्तेमाल कर माहौल बनाने का इल्ज़ाम लगाते हुए कहा है कि बिहार इंतिख़ाब में भाजपा कोई बड़ी ताकत नही हैं। नीतीश ने कहा कि हम तांत्रिक से मिले, उनकी बात सुनी और निकल लिए, हमने कुछ छुपाया तो नहीं। पीएम मोदी ने इसे तंत्र-मंत्र से जोड़ दिया। उन्होंने कहा, पीएम मोदी खुद को तंत्र-मंत्र के खिलाफ एलान करें और बताएं वे साधुओं से क्यों मिलते है।

न्यूज एजेंसी एएनआइ के साथ बातचीत में वजीरे आला नीतीश कुमार ने यह बातें कही। लालू प्रसाद यादव के साथ इत्तिहाद करने को लेकर मुखालिफत खेमे के इल्ज़ामत के सिलसिले में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि हम दोनों के ख्याल बराबर हैं और हमारे दरमियान कोई एख्तेलफ़ात नहीं है। भाजपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि एनडीए के साथी पार्टियों के दरमियान कई मामलों पर एख्तलफ़ात है और वे अज़ीम इत्तिहाद के लीडरों के दरमियान एख्तेलाफ़ को लेकर भ्रम फैला रहे हैं।

वजीरे आजम नरेंद्र मोदी की रैली में भीड़ को लेकर नीतीश कुमार ने कहा कि भाजपा के लीडर पीएम मोदी की अवामी इजलास में भीड़ जमा करने के लिए हर मुमकिन कोशिश करते हैं। जबकि उनकी इजलास में अवाम खुद से इजलास मुकाम पर पहुंचती हैं। उन्होंने कहा कि बिहार इंतिख़ाब में एनडीए और अज़ीम इत्तिहाद के दरमियान सही मायनों में कोई बड़ी लड़ाई नहीं हैं। हां, लेकिन हम ऐसा मानते है कि लड़ाई में सामने वाले को कमजोर नहीं समझना चाहिए, ऐसा मान कर हम इंतिख़ाब लड़ रहे हैं।

अज़ीम इत्तिहाद के लीडर ने भाजपा पर इल्ज़ाम लगाते हुए कहा कि उनकी मंशा साफ है, उनका मकसद एक रियासत में इंतिख़ाब जितने के बाद दूसरे रियासत में हुकूमत बनाने के लिए कोशिश करना हैं। भाजपा हर रियासत में हुकूमत हासिल करने के लिए कोशिश कर रही है, उनका हुकूमत चलाने में कोई इन्टरेस्ट नहीं हैं। उन्होंने मरकज़ की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि हुकूमत में आने के बाद अब तक एनडीए हुकूमत एकतेसादी , सामाजिक, बाइरून मुल्क के मामले समेत दीगर अहम मुद्दों पर असर नहीं दिखी हैं।

तांत्रिक से मिलने के मामले पर नीतीश कुमार ने कहा कि हमारे एक साथी के दरख्वास्त पर मैंने डेढ साल तांत्रिक से मुलाकात की थी। इस मुलाकात का वीडियो आज दिखाकर भाजपा वाले साबित क्या करना चाहते हैं। उन्होंने हमला तेज करते हुए कहा कि पीएम मोदी किन लोगों से मिले है, यह सब भी सोशल मीडिया पर मौजूद हैं. नीतीश ने कहा कि हम तांत्रिक से मिले, उनकी बात सुनी और निकल लिए, हमने कुछ छुपाया तो नहीं। पीएम मोदी ने इसे तंत्र-मंत्र से जोड़ दिया। उन्होंने कहा, पीएम मोदी खुद को तंत्र-मंत्र के खिलाफ ऐलान करें, क्यों मिलते है साधुओं से।

 

TOPPOPULARRECENT