Friday , July 21 2017
Home / Delhi News / खेल संबंधों को जारी रखना चाहिए, बेहतर माहौल बनता है जिसकी हमें जरुरत है- अब्दुल बासित

खेल संबंधों को जारी रखना चाहिए, बेहतर माहौल बनता है जिसकी हमें जरुरत है- अब्दुल बासित

नई दिल्ली। भारत स्थित पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित का कहना है कि दोनों देशों के बीच शांति और समृद्धि के लिए कश्मीर पर वार्ता होनी चाहिए और दोनों के बीच क्रिकेट खेला जाना चाहिये।

बासित ने एक अंग्रेज़ी दैनिक के साथ बातचीत में कहा, “मुझे लगता है कि हमें क्रिकेट और अन्य खेल भी खेलने चाहिये। समस्या हल होने तक खेल संबंधों को मुल्तवी रखना अक़्लमंदी नही होगी। खेल से बेहतर माहौल बनता है जिसकी हमें ज़रुरत है।”

बासित ने मोदी सरकार के सत्ता में आने के कुछ महीने पहले ही यहां कार्यभार संभाला था। इन तीन सालों में काफी कुछ हुआ जिसकी वजह से दोनों देशों के संबंध ख़राब हुए। बासित ने हुर्रियत नेताओं को बुलाया था जिसके बाद 2014 में विदेश सचिव स्तरीय वार्ता रद्द हो गई थी।

बासित का कहना है कि दिसंबर 2015 में व्यापक वार्ता की रुपरेखा बनाने के लिए दोनों पक्षों के बीच समझोता होना आशा की किरण है लेकिन साथ ही ये भी कहा कि शर्तों के साथ बातचीत नहीं हो सकती। बहरहाल, न्होंने निकट भविष्य में वार्ता शुरु होने की आशा व्यक्त की।

बासित ने तमाम संभावनाओं के दरवाज़े खुले रखने की वकालत करते हुए कहा, “हमें बहुत उम्मीदें थीं क्योंकि हमारे प्रधानमंत्री ने मई 2014 में भारत जाने का बोल्ड फ़ैसला किया था लेकिन उसके बाद बातचीत की प्रक्रिया अटक गई। अब दोनों देश दिसंबर 2015 में व्यापक बातचीत के लिए रुपरेखा बनाने पर राज़ी हो गए हैं जो पिछले तीन सालों में हमारी सबसे बड़ी उपलब्धी है।

अब जब भी दोनों पक्ष बातचीत के लिए राज़ी होते हैं, उन्हें बातचीत के रुपरेखा बनाने में समय बरबाद नहीं करना पड़ेगा। आप दरवाज़ा बंद करके चाबी बाहर नहीं फ़ेंक सकते, आपको संभावनाओं के लिए दरवाज़ा खुला रखना होगा। मुझे उम्मीद है कि भारत और पाकिस्तान एक दूसरे से बात करेंगे लेकिन ये बातचीत अब होगी या फिर दो साल बाद, मुझे नहीं मालूम।”

TOPPOPULARRECENT