Saturday , August 19 2017
Home / AP/Telangana / गरमाई तातीलात पर खानगी स्कूल इंतेज़ामीया की ब्रहमी

गरमाई तातीलात पर खानगी स्कूल इंतेज़ामीया की ब्रहमी

हैदराबाद 16 अप्रैल: हुकूमत की तरफ से एक हफ़्ता पहले गर्मी के सबब अचानक गरमाई तातीलात के एलान से ख़ानगी स्कूल इंतेज़ामीया में बेचैनी पैदा हो चुकी है। ख़ानगी स्कूल इंतेज़ामीया की तरफ से हुकूमत के इस इक़दाम की मुख़ालिफ़त की जा रही है और बाज़ स्कूलों ने गरमाई तातीलात 16 अप्रैल से ना देने का एलान भी किया है। जबकि महिकमा तालीमात ने तेज़ गर्मी के सबब स्कूलों को फ़ौरी तौर पर गरमाई तातीलात देने के अहकाम जारी कर दिए हैं। स्कूल इंतेज़ामीया का कहना है कि अचानक तातीलात का एलान किया जाना और वो भी एसे वक़्त जबकि तातीलात जारी हैं, स्कूल इंतेज़ामीया के लिए मुश्किलात का बाइस है। चूँकि बेशतर स्कूल इंतेज़ामीया गरमाई तातीलात के लिए स्टूडेंट्स को तालीमी मसरुफ़ियात जारी रखने के लिए घर में तातीलात के दौरान होमवर्क दिया जाता था लेकिन हुकूमत ने 14 अप्रैल को अम्बेडकर जयंती की तातील और 15 अप्रैल को रामनवमी की तातील के दौरान अचानक 16 अप्रैल से तातीलात का एलान कर दिया जिसकी वजह से स्कूल इंतेज़ामीया गरमाई तातीलात की मसरुफ़ियात हवाला करने में नाकाम रहे।

बाज़ स्कूलों में असातिज़ा को तातीलात के अलावा फ़ीस की अदम वसूली पर भी ब्रहमी पाई जा रही है। स्कूल इंतेज़ामीया इस बात से फ़िक्रमंद है कि उन्हें असातिज़ा को माह अप्रैल की मुकम्मिल तनख़्वाहों अदा करनी होंगी जबकि सिर्फ नसफ़ महीना तक ख़िदमात हासिल की गई हैं लेकिन शायद इंतेज़ामीया ये भूल रहे हैं कि स्टूडेंट्स को तातीलात के बावजूद भी वो मुकम्मिल फ़ीस वसूल करते हैं।

गरमाई तातीलात के एलान के साथ ही फ़ीस वसूली का अमल बंद होने के ख़दशा से भी स्कूल इंतेज़ामीया में ब्रहमी पाई जाती है क्युं कि उनका एहसास है कि अब 13 जून तक फ़ीस वसूली की कोई राहें बाक़ी नहीं रहें और ना ही इन गरमाई तातीलात के दौरान कुतुब और यूनीफार्मस की फ़रोख़त अमल में लाई जा सकती है।

हुकूमत ने रियासत में गर्मी और दर्जा हरारत में हो रहे तेज़ी से इज़ाफे के पेश-ए-नज़र स्टूडेंट्स की सेहत को मुतास्सिर होने से बचाने के लिए गरमाई तातीलात का क़बल अज़वक़्त एलान किया है। इस पर किसी किस्म की तन्क़ीद किया जाना दरअसल हुकूमत की तरफ से किए गए अच्छे इक़दाम को निशाना बनाए जाने के बराबर है। हुकूमत ने वाज़िह तौर पर कह दिया कि इन तातीलात के अहकाम की जो स्कूल ख़िलाफ़वरज़ी करेंगे उन के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी।

TOPPOPULARRECENT