Saturday , October 21 2017
Home / Delhi / Mumbai / गर्मी की तीव्रता, 2013 से 4000 मौतें

गर्मी की तीव्रता, 2013 से 4000 मौतें

नई दिल्ली: देश भर में पिछले चार साल से गर्मियों के दौरान भीषण गर्मी की लहर और लू चलने के कारण अब तक 4,204 लोग मर रहे हैं। इस साल मार्च तक 87 लोगों लो लगने से मर गए। सरकार ने आज लोकसभा में यह बात बताई। 9 सांसदों द्वारा लोकसभा में उठाए गए सवाल के लिखित जवाब में मंत्री अर्थ साईंस वाईएस चौधरी ने कहा कि पिछले चार साल से देश भीषण गर्मी की चपेट में है।

बाढ़ के कारण 4,204 लोग मर रहे हैं। वर्ष 2013 में 1437 लोग मर गए थे उनमें से 1394 लोग केवल अविभाजित आंध्र प्रदेश में मर गए। वर्ष 2014 में भी गर्मी की लहर के कारण 549 लोग मर गए। इस साल मार्च तक देश भर में भीषण गर्मी और तापमान में वृद्धि दर्ज की गई है। 87 लोग मरे हुए उनमें तेलंगाना राज्य में सबसे अधिक 56 मौतें दर्ज की गई हैं। 2016 के दौरान अप्रैल और जून के मौसम चिलचिलाती रहेगा और तापमान में भी वृद्धि की संभावना है। पूर्वोत्तर भारत में सामान्य तापमान से एक सीएमएस ग्रेड बढ़ाया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT