Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / ग़द्दारान-ए- तेलंगाना को मज़ीद बर्दाश्त करना, अवाम केलिए नामुमकिन

ग़द्दारान-ए- तेलंगाना को मज़ीद बर्दाश्त करना, अवाम केलिए नामुमकिन

हैदराबाद। 14 नवंबर, ( सियासत न्यूज़ ) अगर सदर तेलगुदेशम मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू ये तसव्वुर करते हैं कि उन्हें तेलंगाना अवाम अब भी चाहते हैं तो वो मेरे ख़िलाफ़ मुक़ाबला करके दिखाएंगे। डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी साबिक़ रुकन असमबली ने

हैदराबाद। 14 नवंबर, ( सियासत न्यूज़ ) अगर सदर तेलगुदेशम मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू ये तसव्वुर करते हैं कि उन्हें तेलंगाना अवाम अब भी चाहते हैं तो वो मेरे ख़िलाफ़ मुक़ाबला करके दिखाएंगे। डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी साबिक़ रुकन असमबली ने आज ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए ये बात कही। उन्हों ने बताया कि तेलंगाना के लिए वो हर तरह की क़ुर्बानी देने केलिए तैय्यार हैं।

डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी ने स्पीकर रियास्ती असमबली मिस्टर एन मनोहर पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो जमहूरी उसूलों का एहतिराम करने के बजाय अपनी मनमानी कररहे हैं। उन्हों ने बताया कि इन की जानिब से इस्तीफ़ा के मुआमला में हाईकोर्ट से रुजू होने के सबब स्पीकर ने फ़ौरी तौर पर इन का इस्तीफ़ा मंज़ूर करलिया है। डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी ने बताया कि साबिक़ में आधे घंटा के अंदर अस्तीफ़े मंज़ूर किए जाते थे लेकिन मौजूदा स्पीकर इस्तीफ़ों का जायज़ा लेने केलिए महीनों लगा रहे हैं।

उन्हों ने बताया कि मिस्टर एन मनोहर सिरी कृष्णा कमेटी के आठविं खु़फ़ीया बाब पर अमल करते हुए मनमानी चलाने की कोशिश कररहे हैं। डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी ने इल्ज़ाम आइद किया कि स्पीकर असमबली रियास्ती गवर्नर मिस्टर ई ऐस ईल नरसिम्हन की हिदायात पर अमल करते हुए अरकान असमबली के बुनियादी हक़ को सल्ब करने के मुर्तक़िब बन रहे हैं। डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी ने स्पीकर असमबली से मुतालिबा किया कि वो फ़ौरी तौर पर तमाम ज़ेर अलतवा इस्तीफ़ों को क़बूल करते हुए अरकान असमबली के हुक़ूक़ का तहफ़्फ़ुज़ करें।

बाग़ी साबिक़ रुकन असमबली तेलगुदेशम पार्टी ने बताया कि इन के इस्तीफ़ा की मंज़ूरी सिर्फ और सिर्फ स्पीकर को कोर्ट का ख़ौफ़ है। उन्हों ने बताया कि अगर वो अदालत से रुजू नहीं होते तो अब भी इन का इस्तीफ़ा ज़ेर इलतिवा रखा जाता। चूँकि स्पीकर रियास्ती असमबली तेलंगाना क़ाइदीन की जानिब से रियासत में सयासी बोहरान की सूरत-ए-हाल पैदा किए जाने को रोकने की कोशिश कररहे हैं। उन्हों ने इल्ज़ाम आइद किया कि स्पीकर असमबली सियासत से बालातर होकर ख़िदमात अंजाम देने के बजाय अपने रुतबा और कुर्सी का ग़लत इस्तिमाल कररहे हैं।

उन्हों ने बताया कि स्पीकर असमबली अम्दन अरकान असमबली के इस्तीफ़ों के फ़ैसला में ताख़ीर कररहे हैं जबकि स्पीकर का काम सिर्फ इतना है कि वो मकतूब इस्तीफ़ा हवाले करने वाले रुकन असमबली की दस्तख़त की तहक़ीक़ करें और इस बात की आगही हासिल करलीं कि इस्तीफ़ा रज़ाकाराना तौर पर दिया है या नहीं।डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी ने बताया कि वो मुस्तक़बिल में किसी भी सयासी जमात में शामिल होने का इरादा नहीं रखती। सयासी मुस्तक़बिल के मुताल्लिक़ किए गए सवाल का जवाब देते हुए उन्हों ने बताया कि इन के हलक़ा असमबली नागर कुरनूल के अवाम के हाथ में है कि वो उन के सयासी मुस्तक़बिल का फ़ैसला करें।

डाक्टर एन जनार्धन रेड्डी ने बताया कि तेलंगाना इलाक़ा में तेलगुदेशम पार्टी का वक़ार दिन बह दिन घटता जा रहा है जबकि कांग्रेस के तेलंगाना क़ाइदीन इलाक़ा में अवाम का सामना करने के मौक़िफ़ में नहीं हैं। उन्हों ने बतायाकि वो ये बात यक़ीन के साथ कह सकते हैं कि तेलंगाना अवाम अब मज़ीद ग़द्दार इन तेलंगाना को बर्दाश्त नहीं करेंगे चूँकि अवाम को कांग्रेस और तेलगुदेशम पार्टी की जानिब से दिए गए धोकों की तफ़सीलात से वाक़फ़ीयत हासिल होचुकी है।

TOPPOPULARRECENT