Wednesday , October 18 2017
Home / India / ग़लत था आर्डिनेंस को बकवास कहना: राहुल गांधी

ग़लत था आर्डिनेंस को बकवास कहना: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा है कि आवामी नुमाइंदो को बचाने के लिए लाए गए आर्डिनेंस को बकवास बताना गलत था, लेकिन उनके जज़्बात सही थे उन्होंने कहा, मैंने कड़े अल्फाज़ का इस्तेमाल किया था मैंने बकवास अल्फाज़ का इस्तेमाल किया, जो गलत था लेकिन मेरे

राहुल गांधी ने कहा है कि आवामी नुमाइंदो को बचाने के लिए लाए गए आर्डिनेंस को बकवास बताना गलत था, लेकिन उनके जज़्बात सही थे उन्होंने कहा, मैंने कड़े अल्फाज़ का इस्तेमाल किया था मैंने बकवास अल्फाज़ का इस्तेमाल किया, जो गलत था लेकिन मेरे जज़्बात सही थे |

राहुल के ऐतराज के बाद ही हुकूमत ने इस आर्डिनेंस को वापस लेने का फैसला किया लेकिन वज़ीर ए आज़म के अमेरिका दौरे के दौरान जिस तरह से राहुल ने कैबिनेट के फैसले पर ऐतराज़ जताया था, उसे लेकर सवाल उठने लगे थे कुछ लोगों का मानना था कि राहुल ने ऐसा करके वज़ीर ए आज़म की तौहीन की, अब अहमदाबाद में अपने बयान पर सफाई देकर राहुल डैमेज कंट्रोल में जुट गए हैं |

उन्होंने यह भी बताया कि पार्टी सदर सोनिया गांधी ने उन्हें इस बात का एहसास कराया कि उन्हें उन अल्फाज़ का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए था राहुल ने कहा, मेरी मां ने मुझे बताया कि मेरे अल्फाज़ ज्यादा सख्त थे मैं मानता हूं कि आर्डिनेंस को बकवास नहीं बताना चाहिए था मेरे जज़्बात सही थें, लेकिन अल्फाज़ ज्यादा कड़े हो गए थे, बाद में मुझे भी ऐसा ही लगा |

इस दौरान राहुल ने कहा कि, हमारे मुल्क में ज्यादातर सियासी पार्टियों में कोई जम्हूरियत निज़ाम नहीं है जहां तक कांग्रेस की बात है, तो मैं इस सिस्टम को बदलना चाहता हूं इस मुल्क का मसला यही है कि सत्ता चुनिंदा लोगों के पास है और वही मुल्क चलाते हैं |

TOPPOPULARRECENT