Tuesday , October 17 2017
Home / Khaas Khabar / गांधी जी के ख़ुतूत की नीलामी रुकवाने सोनीया गांधी को मकतूब

गांधी जी के ख़ुतूत की नीलामी रुकवाने सोनीया गांधी को मकतूब

पद्मश्री गिरी राज किशवर ने आज गांधी जी के ज़ेर-ए-इस्तेमाल रही अशीया को तिजारती मक़ासिद के लिए इस्तिमाल करने पर तशवीश का इज़हार करते हुए यू पी ए सदर नशीन सोनीया गांधी से दरख़ास्त की।

पद्मश्री गिरी राज किशवर ने आज गांधी जी के ज़ेर-ए-इस्तेमाल रही अशीया को तिजारती मक़ासिद के लिए इस्तिमाल करने पर तशवीश का इज़हार करते हुए यू पी ए सदर नशीन सोनीया गांधी से दरख़ास्त की।

वो शख़्सी तौर पर दिलचस्पी लेते हुए गांधी जी के दो ख़ुतूत की आइन्दा हफ़्ते लंदन में होने वाली नीलामी को रुकवादीं। याद रहे कि 12 दिसमबर को लंदन के सौ थबनीर में नीलाम मुनाक़िद शुदणी है जिस में गांधी जी के तहरीर करदा दो ख़ुतूत भी नीलाम का हिस्सा हैं जो उन्हों ने राबनदर नाथ टैगोर के बड़े भाई देव जेन्दर नाथ को और दूसरा ख़त एक नामालूम फ़र्द को इज़हार ताज़ियत के तौर पर तहरीर किया था।

अलावा अज़ीं दस्तूर हिंद का एक नायाबाएडीशन भी नीलामी का हिस्सा है। गानधयाई मुसन्निफ़ गिरी राज किशवर ने मीडीया नुमाइंदों से बात करते हुए कहा कि उन्हों ने 19 नवंबर को सोनीया गांधी को एक मकतूब तहरीर करते हुए गांधी जी के इन ख़ुतूत की नीलामी को रुकवाने की दरख़ास्त की है।

यहां इस बात का तज़किरा भी ज़रूरी है कि जारीया साल जुलाई में भी गांधी जी की अशीया का एक नीलाम मुनाक़िद हुआ था जहां गांधी जी के इन ख़ुतूत को नीलाम किया गया था जो उन्हों ने अपने दोस्त और आरकीटकट हरमीन कल्ला नब्बाश को तहरीर किए थे। सोनीया गांधी को उस वक़्त भी मुक्तो बात तहरीर करते हुए नीलाम रुकवाने की दरख़ास्त की गई थी जिस पर सोनीया गांधी ने फ़ौरी हरकत में आते हुए नीलामी को रुकवा दिया था।

किशवर ने इद्दिआ किया कि सोनीया गांधी ने बादअज़ां उन से वाअदा किया था कि वज़ारत-ए-सक़ाफ़त की तरफ से जल्द ही एक पालिसी तशकील दी जाएगी जिस के ज़रीया उस नौईयत की नीलामी को मुस्तक़बिल में रोका जा सकेगा।

TOPPOPULARRECENT