Sunday , May 28 2017
Home / Featured News / गिलानी के नवासे का बतौर अनुसंधान अधिकारी नियुक्त बिलकुल‌ पारदर्शी

गिलानी के नवासे का बतौर अनुसंधान अधिकारी नियुक्त बिलकुल‌ पारदर्शी

श्रीनगर: सैयद अली शाह गिलानी के नवासे को अनुसंधान अधिकारी के रूप में नियुक्त करने में नियमों में कोई तोड़ मरोड़ नहीं की गई है, जम्मू-कश्मीर के पर्यटन विभाग के सुदम ख़ुदमुख़तार ने आज यहां यह बात कही। एक राष्ट्रीय दैनिक में प्रकाशित रिपोर्टों पर प्रतिक्रिया करते हुए कश्मीर इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर के प्रवक्ता ने कहा कि इस नियुक्ति में चयन के प्रचलित प्रक्रियाओं का पालन किया गया है।

अनुसंधान अधिकारी की संपत्ति के लिए विज्ञापन पिछले साल 3 अक्टूबर को प्रकाशित किया गया जिसके लिए 196 आवेदन प्राप्त हुए। उनमें से साक्षात्कार पत्र 35 उम्मीदवारों को भेजें किए गए। इस पद के लिए साक्षात्कार पिछले नवंबर में आयोजित किए गए जिसके बाद गिलानी के नवासे उन्नीस इस्लाम को चुना गया।

प्रवक्ता ने कहा कि अनीस ने पांच सदस्यीय साक्षात्कार पैनल द्वारा तैयार मेरिट सूची में उन्नीस शीर्ष आए। उन्होंने कहा कि कन्वेंशन सेंटर को पिछले महीने के अंत स्टेट क्रिमिनल इंवेस्ट नेविगेशन विभाग से मंजूरी प्राप्त हो गई, और अनीस के खिलाफ कुछ भी प्रतिकूल बात नहीं पाई गई कहा कि यह चुनाव पारदर्शी तरीके से किया गया और कोई भी संबंधित फाइल तथा प्रविष्टियों उपयोग आरटीआई के माध्यम से प्राप्त कर सकता है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT