Wednesday , August 23 2017
Home / Khaas Khabar / गौहत्या मामले में दलित की पिटाई का मामला : नौजवानाें ने की आत्महत्या की कोशिश, अस्पताल में एड्मीट

गौहत्या मामले में दलित की पिटाई का मामला : नौजवानाें ने की आत्महत्या की कोशिश, अस्पताल में एड्मीट

राजकोट : गुजरात के राजकोट जिले में दो स्थानों पर दलित युवकों ने आज आत्महत्या की कोशिश की। पिछले हफ्ते उना में गोहत्या को लेकर अपने समुदाय के लोगों को प्रताड़ित किए जाने के मुखालिफत में उन्होंने यह कदम उठाया है। शहर के बाजार वाले इलाके में डॉ बाबासाहेब अंबेडकर की प्रतिमा के पास पांच दलित युवकों…राजेश परमार, रमेश प्राधी, जगदीश राठौड़, भरत सोलंकी और अनिल मागध ने जहर पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की। जिले के जामकनदोरना में किशोर सोलंकी :30: और अमृत परमार :25: ने आत्महत्या करने की कोशिश की।
इन सभी युवकों का गोंदल के अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस निरीक्षक विजय चौधरी ने बताया कि पांच युवकों ने गोंदल में आत्महत्या करने की कोशिश की। उन्होंने ऐसा कदम उठाने की धमकी दी थी और पुलिस ने इसे रोकने के लिए पर्याप्त संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात किए थे लेकिन फिर भी वे जहर पीने में कामयाब रहे। उन्होंने बताया, ‘‘वे लोग गिर सोमनाथ जिले के उना कस्बे में अपने साथी दलित युवकों पर नृशंस हमले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे।’’
गिर सोमनाथ के पुलिस उपाधीक्षक के.एम जोशी ने बताया कि उना प्रताड़ना मामला में नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। निरीक्षक एनयू जाला और तीन कांस्टेबलों को निलंबित कर दिया गया है। गोहत्या करने को लेकर उना में दलित युवकों की परेड कराई गई थी और उन्हें पीटा गया था। इस घटना का वीडियो फैलने पर राष्ट्रव्यापी रोष प्रकट किया गया था। पीड़ितों की दलील है कि वे लोग गाय की खाल उतार रहे थे न कि उसकी हत्या की थी। सुरेंद्रनगर में करीब 300 दलित युवक आज एक मरी हुई गाय लाए और कलेक्टर के कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। उन्होंने कलेक्टर को एक ज्ञापन देकर उना मामले के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

TOPPOPULARRECENT