Saturday , October 21 2017
Home / India / गुजरात में सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन के लिए 33% तहफ़्फुज़ात

गुजरात में सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन के लिए 33% तहफ़्फुज़ात

रियासत गुजरात की तमाम सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन को मौजूदा 30 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात के अलावा वज़ीरे आला आनंदी बेन पटेल ने मज़ीद 3 फ़ीसद के इज़ाफे का ऐलान किया और इस तरह अब तमाम सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन के लिये 33 फ़ीसद कोटा मुख़तस किया गया ह

रियासत गुजरात की तमाम सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन को मौजूदा 30 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात के अलावा वज़ीरे आला आनंदी बेन पटेल ने मज़ीद 3 फ़ीसद के इज़ाफे का ऐलान किया और इस तरह अब तमाम सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन के लिये 33 फ़ीसद कोटा मुख़तस किया गया है।

गुजरात के एक वज़ीर और रियासती हुकूमत के तर्जुमान नीतिन‌ पटेल ने बताया कि मौजूदा तौर पर तमाम सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन को 30 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात दिए जा रहे थे लेकिन चूँकि हम ने ख़वातीन को मज़ीद बा इख़तियार बनाने का बीड़ा उठाया हैलिहाज़ा तहफ़्फुज़ात के कोटा में मज़ीद 3 फ़ीसद का इज़ाफ़ा किया गया है और इस तरह अब रियासत गुजरात में तमाम सरकारी मुलाज़िमतों में ख़वातीन का 33 फ़ीसद हिस्सा मुख़तस होगा।

जब कि सरकारी प्रेस रीलीज़ ने भी उस की तौसीक़ की है कि वज़ीर आलीआनंदी पटेल ने मौजूदा गुजरात सियोल सर्विसेस के ज़वाबत 1997 में मामूली तरमीम करते हुए ख़वातीन के लिये सरकारी मुलाज़िमतों में 33 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात मंज़ूर किए हैं और इस तरह हर तीन सरकारी जायदादों में से एक जायदाद किसी भी ख़ातून के लिये मुख़तस रहेगी।

जिस का इतलाक़ रियासत के तमाम महिकमाजात बिशमोल पुलिस‌ , सेहत , तालीम और जनरल एडमिनिस्ट्रेशन पर होगा।

TOPPOPULARRECENT