Tuesday , April 25 2017
Home / Featured News / गुजरात शिखर सम्मेलन में जनता के करोड़ों रुपये खर्च

गुजरात शिखर सम्मेलन में जनता के करोड़ों रुपये खर्च

Kolkata: Congress Vice President Rahul Gandhi addresses an election campaign rally in Kolkata on Thursday. PTI Photo by Ashok Bhaumik (PTI5_8_2014_000223B)

नई दिल्ली: कांग्रेस ने आज गतिशील गुजरात शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ इल्ज़ाम लगाने में शिद्दत पैदा करते हुए अफसोस किया भाजपा सरकार की ओर से इस पर जनता के करोड़ों रुपये खर्च किये जा रहे हैं जबकि जनता उच्च मालियती नोटों के निरसन की वजह से वित्तीय संकट का सामना कर रही हैं। कांग्रेस के प्रवक्ता शक्ति सनाह गोहिल ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मोदी जी ने इस शिखर सम्मेलन की बतौर मुख्यमंत्री गुजरात 2003 में नींव डाली थी।

2015 में प्रधानमंत्री भारत की हैसियत से शुरू की। उन्होंने कहा कि जनता के करोड़ों रुपये इस समारोह में ख़र्च‌ किए जा रहे हैं, जबकि पूरे देश पंक्तियों में  कठिनाइयों का सामना कर रही है। इस बीच राहुल गांधी की सदारत कांग्रेस के एक राष्ट्रीय सम्मेलन कल नई दिल्ली में आयोजित होगा जिसका पृष्ठभूमि उच्च मालियती नोटों के निरसन है, यह इस बात का भी संकेत है कि राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जाएगा।

उपाध्यक्ष कांग्रेस ने पार्टी के स्थापना दिवस समारोह भी पिछले 28 दिसंबर को अध्यक्षता की थी। इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बीमारी के कारण अनुपस्थित पर कांग्रेस की कार्यकारिणी की बैठक की भी अध्यक्षता की थी। कांग्रेस के प्रवक्ता शक्ति सनाह गोहिल को कहा कि राहुल गांधी ने नोटों के निरसन के विरोध का नेतृत्व किया है और वह कांग्रेस के राष्ट्रीय सम्मेलन की भी अध्यक्षता करेंगे।

भूमि अधिग्रहण मुद्दे और किसानों के कर्ज़‌ माफी की समस्या से राहुल गांधी ने नोटों के निरसन के विरोध की भी नेतृत्व किया है और वही राष्ट्रीय सम्मेलन की अध्यक्षता भी कर रहे हैं। उम्मीद है कि इस सम्मेलन से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, अन्य वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं भी संबोधित करेंगे और पार्टी के चुनाव अभियान को पांच राज्यों में जहां जल्द ही विधानसभा चुनाव निर्धारित हैं। मुंबई से मिली सूचना के मुताबिक कांग्रेस ने भाजपा की आलोचना करते हुए कहा कि उसने मकोका के आरोपियों को जिला पुणे में पार्टी में शामिल कर लिया है|

जबकि जिला परिषद के चुनाव जल्द ही होने वाले हैं। कांग्रेस के प्रदेश शाखा के प्रवक्ता सचिन सावंत ने अपने एक बयान में कहा कि विट्ठल शीलार को पार्टी में शामिल कर भाजपा ने साबित कर दिया कि सार्वजनिक जीवन में नैतिकता और चरित्र की भाजपा की बातें पूरी तरह ””खोखली” है|

Top Stories

TOPPOPULARRECENT