Sunday , October 22 2017
Home / Featured News / गौहत्या के लिए मौत की सजा दी जानी चाहिये : प्रवीण तोगड़िया

गौहत्या के लिए मौत की सजा दी जानी चाहिये : प्रवीण तोगड़िया

image

विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया ने केंद्र सरकार से मांग की कि गौहत्या के लिए मौत की सजा का और अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए क़ानून पारित किया जाए |

विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि, “अदालत में मामला (राम मंदिर मुद्दे के बारे में) लंबित रहने बावुजूद भी, केंद्र सरकार को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए कानून पारित करना चाहिए” |

वृंदावन में एक धार्मिक कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद बोलते हुए तोगड़िया ने कहा कि केंद्र सरकार को गौहत्या के मामले दंडित करने के लिए सजा-ए-मौत का कानून बनाना चाहिए।
उन्होंने मुस्लिम समुदाय से अपील की उन्हें गौहत्या में शामिल लोगों के नाम का खुलासा करना चाहिए ताकि निर्दोष लोगों को कोई परेशानी न हो |

जेएनयू विवाद पर, विहिप नेता ने कहा कि कश्मीर में इस तरह की समस्या के बाद राष्ट्र विरोधी तत्वों के खिलाफ कोई कार्यवाई नहीं की गयी थी जब तक इस तरह के तत्वों के खिलाफ कोई सख्त कार्रवाई नहीं की जाएगी ये समस्या देश के अन्य भागों में पैदा हो सकती है |उन्होंने कहा कि संसद हमले के दोषी अफज़ल गुरु राष्ट्र विरोधी और देशद्रोही था उसका समर्थन करने वालों को फांसी दी जानी चाहिए |

आगरा में विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता की हत्या के बारे में उन्होंने कहा कि सरकार को हमले में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।

हरियाणा में जाट समुदाय द्वारा 10 दिन तक चले आरक्षण आन्दोलन के बारे में उन्होंने कहा कि ये सरकार की गलत आर्थिक नीतियों का एक परिणाम था और जब युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान नहीं किये जायेंगें इस तरह की मांग के समाज के अन्य वर्गों से भी आ सकती है।

TOPPOPULARRECENT