Saturday , September 23 2017
Home / India / ग्रामीणों का आरोप कश्मीरी लेक्चरर शब्बीर अहमद सेना की हिरासत में मारे गए

ग्रामीणों का आरोप कश्मीरी लेक्चरर शब्बीर अहमद सेना की हिरासत में मारे गए

श्रीनगर: कश्मीर में जारी हिंसा  में एक 30 वर्षीय लेक्चरर शब्बीर अहमद की मौत हो गयी स्थानीय नागरिकों का आरोप है कि लेक्चरर शब्बीर अहमद की मौत सेना की हिरासत में हुई है |

सेना और पुलिस अधिकारियों ने उन युवाओं को पकड़ने के लिए घर घर में तलाशी लेनी शुरू की, जो बुधवार को देर रात इलाके में हुए प्रदर्शनों का नेतृत्व कर रहे थे। तलाशी अभियान के दौरान पुलवामा ज़िले के ख्रेव गाँव से सेना ने शब्बीर अहमद और लगभग 30 अन्य लोगों को  हिरासत में लिया था |ग्रामीणों ने नाम न छपने की शर्त पर बताया कि गुरुवार सुबह अहमद का शव परिवार वालों को सौंप दिया गया है |

एक पुलिस अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर अहमद की मौत की पुष्टि की | उन्होंने कहा कि कि अहमद के भाई सहित कम से कम 25 लोग घायल हैं लेकिन ये कार्यवाई भारत विरोधी विरोध प्रदर्शन के जवाब में की गयी है|

कम से कम 60 लोगों ने आरोप लगाया कि देर रात तलाशी अभियान के दौरान उनमें से कई को बेरहमी से पीटा गया इस दौरान घायल हुए 16  ज़ख़्मी लोगों का अभी भी अस्पताल में इलाज किया जा रहा है |
सेना के प्रवक्ता कर्नल नितिन एन जोशी ने कहा कि मौत के कारणों की जांच की जा रही है।
कश्मीर में लगभग छह हफ्ते पहले सेना द्वारा हिजबुल कमांडर बुरहान वानी को मारे जाने के बाद बड़े पैमाने पर स्थानीय नागरिकों द्वारा विरोध प्रदर्शन जारी है | इलाक़े में लगा हुआ कर्फ्यू और कम्यूनिकेशन बलैकआउट भी विरोध प्रदर्शन को रोकने में नाकाम है | कश्मीर में जारी हिंसा के दौरान नागरिकों को भोजन, दवा और अन्य आवश्यकताओं की कमी से निपटने के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ रहा है |

 

TOPPOPULARRECENT