Thursday , August 17 2017
Home / Crime / घाटी में मौजूद आतंकवादियों का मकसद सुरक्षा बलों को बदनाम करना: खुफिया एजेंसी आईबी

घाटी में मौजूद आतंकवादियों का मकसद सुरक्षा बलों को बदनाम करना: खुफिया एजेंसी आईबी

श्रीनगर: भारत की  खुफिया एजेंसी आईबी ने गृह मंत्रालय को एक रिपोर्ट में भेजी है जिसमें बताया गया है कि  घाटी में मौजूद आतंकवादियों का मकसद खून खराबे की बजाय लोगों को भड़का कर सेना और सुरक्षा बलों को बदनाम करना है।  उन्होंने बताया  कि हंदवाड़ा की घटना आतंकी और अलगाववादी नेटवर्क की इसी करतूत का नतीजा है। रिपोर्ट में बताया गया है कि सुरक्षा एजेंसियों की सूचना के अनुसार घाटी में फिलहाल अलग-अलग गुटों के करीब 140 आतंकी मौजूद हैं। इनमें करीब 80 लोकल हैं और बाकी 60 पाकिस्तान व अफगानिस्तान के नागरिक हैं। इन आतंकियों में ज्यादातर हिजबुल मुजाहिद्दीन और लश्कर-ए-तैयबा के हैं। इन आतंकियों का एक नेटवर्क है, जो लोगों को भड़का कर सड़कों पर निकलने के लिए मजबूर कर रहा है ताकि सेना और सुरक्षाबलों की कार्रवाई से मासूम लोग प्रभाभित हों और भारत विरोधी प्रचार हो सके। सेना को बदनाम कर कश्मीर मुद्दे को उछलना इनका मुख्य मकसद है।

TOPPOPULARRECENT