Tuesday , October 17 2017
Home / Khaas Khabar / घोटालों पर वज़ीर-ए-आज़म की ख़ामोशी अफ़सोसनाक: चन्द्रबाबू

घोटालों पर वज़ीर-ए-आज़म की ख़ामोशी अफ़सोसनाक: चन्द्रबाबू

हैदराबाद 10 मई: तेल्गुदेशम पार्टी के सदर एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा की वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह सुप्रीम कोर्ट की तरफ से किए जाने वाले रिमार्कस पर रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करें। कोयला घोटाले के अलावा दुसरी बदउनवानीयों के मामले और सी बी आई पर सु

हैदराबाद 10 मई: तेल्गुदेशम पार्टी के सदर एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा की वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह सुप्रीम कोर्ट की तरफ से किए जाने वाले रिमार्कस पर रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करें। कोयला घोटाले के अलावा दुसरी बदउनवानीयों के मामले और सी बी आई पर सुप्रीम कोर्ट की तरफ से की जाने वाली तन्क़ीदों पर वज़ीर-ए-आज़म को अपनी ख़ामोशी तोड़नी चाहीए।

उनकी ख़ामोशी अफ़सोसनाक है। सदर तेल्गुदेशम एन चन्द्रबाबू नायडू ने आज प्रेस कांफ्रेंस से ख़िताब करते हुए ये बात कही। उन्होंने हुकूमत पर इल्ज़ाम लागया कि हुकूमत बदउनवानीयों में शामिल वुज़रा के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाए उन्हें बचाने की कोशिशों में मसरूफ़ है।

उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के रद्द-ए-अमल को बदउनवानीयों के ख़ातमे के लिए इक़दामात की शुरुआत‌ क़रार देते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आज़म और वज़ीर-ए-क़ानून के मुताल्लिक़ सुप्रीम कोर्ट के एहसासात से हुकूमत की नाअहली साबित होती है।

इस प्रेस कांफ्रेंस के मौक़े पर रुक्ने असम्बली ए‍. रेवन्त रेड्डी और रुक्ने क़ानूनसाज़ कौंसिल अल्हाज मुहम्मद सलीम मौजूद थे। नायडू ने बताया कि हुकूमत की तरफ से इख़तियार करदा रवैये से एसा महसूस होता है कि हुकूमत बदउनवानीयों को खत्म करने की बजाय बदउनवानीयों को बढावा देने की कोशिश कररही है।

उन्होंने आए दिन नए घोटालों के मंज़र-ए-आम पर आने पर अफ़सोस का इज़हार करते हुए कहा कि मर्कज़ी हुकूमत की तरफ से घोटालों को खत्म करने के लिए बेहतर क़गम‌ ना उठाये जाने के सबब ये सूरत-ए-हाल पैदा हुई है और अदालतों को घोटालों को खत्म करने की नौबत आई है।

उन्होंने कांग्रेस की कामयाबी को तकनीकी कामयाबी से ताबीर करते हुए कहा कि घोटालों से अवाम आजिज़ आचुके हैं

नायडू ने कहा कि अंध्र प्रदेश में सी बी आई ने चार्ज शीट में जिन अफ़राद के नाम शामिल किए हैं, उन्हें काबीना में बरक़रार रखने के लिए हाईकमान से दबाव‌ डलवाया जा रहा है।

नायडू ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट जब वज़ीर-ए-आज़म और वज़ीर कोयला को निशाना बना रहा। तो अब इस मुल्क में इक़तिदार की सूरत-ए-हाल क्या है इस का अंदाज़ा लगाया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि कांग्रेस ने मुल्क में हुकूमत के ज़रिये अवाम को राहत के बजाये अवाम को मसाइल में मुबतेला करने और घोटालों को बढावा देने में अहम‌ किरदार अदा किया है।

TOPPOPULARRECENT