Wednesday , October 18 2017
Home / District News / चंद्रबाबू नायडू की पदयात्रा के 100दिन मुकम्मल 1586 केलो मीटर का फ़ासिला पैदल तै किया, कई अवामी मसाइल से वाक़फ़ीयत हैदराबाद,10 जनवरी

चंद्रबाबू नायडू की पदयात्रा के 100दिन मुकम्मल 1586 केलो मीटर का फ़ासिला पैदल तै किया, कई अवामी मसाइल से वाक़फ़ीयत हैदराबाद,10 जनवरी

चंद्रबाबू नायडू की पदयात्रा के 100दिन मुकम्मल 1586 केलो मीटर का फ़ासिला पैदल तै किया, कई अवामी मसाइल से वाक़फ़ीयत

चंद्रबाबू नायडू की पदयात्रा के 100दिन मुकम्मल
1586 केलो मीटर का फ़ासिला पैदल तै किया, कई अवामी मसाइल से वाक़फ़ीयत
हैदराबाद,10 जनवरी : ( सियासत न्यूज़ ) : सदर तेलुगु देशम इन चंद्रबाबू नायडू की पदयात्रा के आग़ाज़ के 100दिन आज मुकम्मल होचुके हैं। नायडू ने अपनी पदयात्रा के दौरान मुख़्तलिफ़ वज़ुहात की बिना पर 5 दिन उसे मुल्तवी किया था। जिस में पार्टी क़ाइद इरम नायडू की हादिसाती मौत भी शामिल है।

नायडू ने अनंत पर के हलक़ा एसेम्बली हिंदू पर से 2 अक्तूबर‌ को अपनी पदयात्रा का आग़ाज़ किया था और ताहाल उन्होंने 10 अज़ला , 42 हलक़े जात , 13 म्यूंसिपल्टी , 83 मंडल , 702 ग्राम पंचायत का दौरा मुकम्मल करलिया है। नायडू ने अपनी इस पदयात्रा के दौरान अवाम के मुख़्तलिफ़ तबक़ात बिलखुसूस अक़ल्लीयतों , बुनकरों , किसानों , दलितों और पसमांदा तबक़ात से मुलाक़ात करते हुए उन के मसाइल से आगाही हासिल की।

नायडू ने ताहाल 1586 केलो मीटर का पैदल फ़ासिला कामयाबी के साथ तै करलिया है इस दौरान उन की सेहत में बिगाड़ के अलावा मुख़्तलिफ़ बीमारियों की अफवाहें भी गशत करती रहीं। लेकिन नायडू के शख़्सी उत्बा ने किसी भी बीमारी की तौसीक़ नहीं की बल्कि डॉक्टर्स की टीम ने नायडू के पैरों और घुटनों में तकलीफ़ के अलावा माबाकी बीमारियों की तरदीद की।

सदर तेलुगु देशम इन चंद्रबाबू नायडू की पदयात्रा विस्तननामी कोसम के 100 दिन मुकम्मल होने पर मुख़्तलिफ़ पार्टी क़ाइदीन ने उन्हें मुबारकबाद पेश की। नायडू ने इलाक़ा आंधरा के बाद इलाक़ा तेलंगाना में अपनी पदयात्रा के दौरान तेलंगाना के मुताल्लिक़ पार्टी के मौक़िफ़ का वाज़िह ऐलान किया जिस पर तेलंगाना के तमाम अज़ला बिलखुसूस अलहदा रियासत तेलंगाना के लिये शदीद जज़बात के हामिल ज़िला के तौर पर जाने जाने वाले ज़िला वरंगल में भी सदर तेलुगु देशम मिस्टर इन चंद्रबाबू नायडू का ज़बरदस्त ख़ैर मुक़द्दम किया गया। नायडू ने ज़िला वरंगल में दाख़िल होने से क़बल कल जमाती इजलास में पार्टी के मौक़िफ़ के मुताल्लिक़ ज़िला करीमनगर-ओ-वरंगल की सरहद पर वाक़्य मौज़ा में पोलेट ब्यूरो इजलास मुनाक़िद किया था और इस इजलास में इस बात का फैसला किया गया था कि मिस्टर नायडू और पार्टी का एक ही मौक़िफ़ होगा और मर्कज़ की जानिब से तलब करदा कल जमाती इजलास में पार्टी ने 2008 के मौक़िफ़ पर बरक़रारी का ऐलान करते हुए रियासत की तक़सीम की हिमायत की थी।

सदर तेलुगु देशम पार्टी से उन 100 अय्याम के दौरान मुख़्तलिफ़ पार्टी क़ाइदीन के अलावा उन के अफ़राद ख़ानदान में एक से ज़ाइद मर्तबा मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर पहूंच कर मुलाक़ात की। नायडू 9 जनवरी को ज़िला खम्मम में दाख़िल होंगे जहां पर इन का ज़बरदस्त ख़ैर मुक़द्दम किये जाने का इमकान है। पार्टी ज़राए के बमूजब 14 जनवरी को नायडू की यात्रा के बाज़ाबता 100 दिन मुकम्मल होने का बड़े पैमाने पर जश्न मनाया जाएगा।

साबिक़ रुकन राज्य सभा के राम मोहन रा जो कि सदर तेलुगु देशम नायडू की पदयात्रा के तमाम उमूर की निगरानी कररहे हैं ने बताया कि नायडू ने इन 100 दिनों में मुख़्तलिफ़ मआशी मसाइल का शिकार अफ़राद की अपने तौर पर शख़्सी मदद की और उन्हें तक़रीबा 15 लाख 87 हज़ार रुपय तक की इमदाद फ़राहम की गई।

TOPPOPULARRECENT