Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / चंद्रा बाबू ने मुक़द्दमात से बचने हुकूमत का साथ दिया

चंद्रा बाबू ने मुक़द्दमात से बचने हुकूमत का साथ दिया

हैदराबाद 17 मार्च (सियासत न्यूज़) वाई ऐस आर कांग्रेस ने कहा कि मुक़द्दमों से बचने के लिए सदर तेलगुदेशम चंद्रा बाबू नायडू ने तहरीक अदमे इअतिमाद से दूरी इख़तियार की। आज प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए वाई ऐस आर कांग्रेस के सीनि

हैदराबाद 17 मार्च (सियासत न्यूज़) वाई ऐस आर कांग्रेस ने कहा कि मुक़द्दमों से बचने के लिए सदर तेलगुदेशम चंद्रा बाबू नायडू ने तहरीक अदमे इअतिमाद से दूरी इख़तियार की। आज प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए वाई ऐस आर कांग्रेस के सीनियर क़ाइद डाक्टर एमवी मीसोरा रेड्डी ने कहा कि पदयात्रा के दौरान चंद्रा बाबू नायडू अवाम दुश्मन पालिसीयों पर अमल पैरा कांग्रेस के हक़ में एक मिनट भी इक़तिदार पर बरक़रार ना रहने का इद्दिआ कर रहे हैं, मगर जब कांग्रेस को इक़तिदार से बेदख़ल करने का मौक़ा आया तो राय दही से ग़ैर जांबदार रहते हुए उन्हों ने हुकूमत को बचाने में अहम रोल अदा किया।

उन्हों ने कहा कि तहरीक अदमे इअतिमाद को शिकस्त ज़रूर हुई, मगर अख़लाक़ी तौर पर अप्पोज़ीशन जमातों को कामयाबी हासिल हुई है। डाक्टर मीसोरा रेड्डी ने कहा कि असल अप्पोज़ीशन तेलगुदेशम ने अवामी मसाइल पर पेश करदा तहरीक अदमे इअतिमाद से राह फ़रार इख़तियार करके एक नई तारीख़ बनाई है, जिस से ये साबित होता है कि कांग्रेस और तलगोदीशम के दरमयान खु़फ़ीया साज़ बाज़ बरक़रार है।

उन्हों ने कहा कि वाई ऐस आर कांग्रेस मायूस नहीं ही, मुक़ामी इदारों के इंतिख़ाबात में दोनों जमातों को ज़रूर सबक़ सुखायगी। उन्हों ने कहा कि तहरीक के मुबाहिस के दौरान हुकूमत की नाकामियों को आशकार करने की बजाय तेलगुदेशम के अरकान असैंबली ने सारा वक़्त राज शेखर रेड्डी के अरकान ख़ानदान और वाई ऐस आर कांग्रेस को तन्क़ीद का निशाना बनाने में ज़ाए किया।

उन्हों ने कहा कि गुज़श्ता दो साल से कांग्रेस और तलगोदीशम के दरमयान नाजायज़ ताल्लुक़ात हैं। जो क़ाइदीन ऐवान में मौजूद नहीं हैं, उन के बारे में बात करने की इजाज़त क़ानून नहीं देता, मगर तलगोदीशम के अरकान असैंबली ने सारे क़ानून को पसेपुश्त डाल दिया।

उन्हों ने कहा कि डिप्टी स्पीकर का रवैय्या भी काबुल एतराज़ था, सिर्फ़ चार्ज शीट में नाम शामिल होजाने से कोई शख़्स मुजरिम नहीं बिन जाता, बल्कि इस का इन्हिसार अदालत के फ़ैसलों पर है।

TOPPOPULARRECENT