Monday , October 23 2017
Home / Bihar News / चलती ट्रेन में लड़की से इस्मत रेज़ी

चलती ट्रेन में लड़की से इस्मत रेज़ी

गोरखपुर से मुजफ्फरपुर आ रही पैसेंजर ट्रेन में मंगल की रात एक लड़की के साथ दो लड़कों ने आबरू रेज़ी किया। वाकिया के बाद ट्रेन से ही दोनों मुजरिमों को स्कॉर्ट पार्टी ने गिरफ्तार कर लिया। दोनों को देर शाम जेल भेज दिया गया। वहीं मक्तुल

गोरखपुर से मुजफ्फरपुर आ रही पैसेंजर ट्रेन में मंगल की रात एक लड़की के साथ दो लड़कों ने आबरू रेज़ी किया। वाकिया के बाद ट्रेन से ही दोनों मुजरिमों को स्कॉर्ट पार्टी ने गिरफ्तार कर लिया। दोनों को देर शाम जेल भेज दिया गया। वहीं मक्तुला का मेडिकल जांच करा कर बयान दर्ज किया गया है। जानकारी के मुताबिक, सहरसा के सौर बाजार की रहने वाली रोमा (हकीकी नाम) अपनी बहन और जीजा के साथ हरियाणा में रहती थी।

तबीयत खराब होने पर वह अपने जीजा के साथ काम करने वाले मोतीपुर रिहायसी उमाशंकर के साथ हरियाणा से सहरसा जननायक एक्सप्रेस से लौट रही थी। मंगल की रात गाड़ी जब बगहा स्टेशन पहुंची, तो उमाशंकर पानी लेने के लिए स्टेशन पर उतरा। इसी दरमियान ट्रेन को खुलते देख रोमा भी ट्रेन से उतर गयी।

दोनों मुजफ्फरपुर आने वाली 55030 मुसाफिर गाड़ी में सवार हो गये। उस वक़्त ट्रेन के डिब्बे में उन दोनों के अलावा दो दीगर लोग भी सवार थे। ट्रेन में बैठते ही रोमा ने जननायक एक्सप्रेस छूट जाने को लेकर उमा शंकर से बातचीत कर रही थी, तभी पहले से बोगी में बैठे दोनों सख्स भी रोमा को झांसा देते हुए उमाशंकर को डांटने लगे। इसी दरमियान दोनों ने रोमा के साथ जबरदस्ती चलती ट्रेन में इस्मत रेज़ी किया। वाकिया को अंजाम देकर दोनों ने उसे चुप रहने की धमकी दी। लेकिन चकिया स्टेशन पर उस बोगी में स्कॉर्ट पार्टी के पहुंचने पर रोमा ने आबरू रेज़ी की वाकिया की जानकारी दी। ट्रेन में रोमा के निशानदेही पर स्कार्ट पार्टी ने दोनों मुजरिमों को गिरफ्तार कर लिया। सुबह 6 बजे के करीब स्कार्ट पाटी रोमा और दोनों मुजरिम को लेकर जीआरपी मुजफ्फरपुर पहुंची।

दोनों मुजरिम की शिनाख्त समस्तीपुर जिला के खानपुर थाना के उदयपुर कॉलोनी रिहायसी आजादी लाल वर्मा और अमृत लाल वर्मा के तौर में हुई। दोनों रिश्ते में ममेरे-फुफेरे भाई हैं। आजादी लाल आटा चक्की चलाता है। वही अमृत बाइक मरम्मती का काम करता है। दोनों अपनी बहन के यहां से लौट रहे थे। रोमा का जीआरपी में बयान दर्ज करने के बाद सदर अस्पताल में मेडिकल जांच करायी गयी। उसने बताया कि उसके जीजा हरियाणा में चाय की दुकान चलाते हैं। देर शाम पूछताछ के बाद दोनों मुजरिमों को जेल भेज दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT