Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / चिरंजीवी की कांग्रेस आला कमान से कुरबत, रोशन मुस्तक़बिल पर क़ियास आराईयां

चिरंजीवी की कांग्रेस आला कमान से कुरबत, रोशन मुस्तक़बिल पर क़ियास आराईयां

हैदराबाद 12 अप्रैल( सियासत न्यूज़) मर्कज़ी वज़ीर सियाहत चिरंजीवी की कांग्रेस आला कमान के पास बढ़ती एहमीयत को देखते हुए कांग्रेस हलक़ों में उन के रोशन मुस्तक़बिल के बारे में मुख़्तलिफ़ क़ियास आराईयों का आग़ाज़ होचुका है।

हैदराबाद 12 अप्रैल( सियासत न्यूज़) मर्कज़ी वज़ीर सियाहत चिरंजीवी की कांग्रेस आला कमान के पास बढ़ती एहमीयत को देखते हुए कांग्रेस हलक़ों में उन के रोशन मुस्तक़बिल के बारे में मुख़्तलिफ़ क़ियास आराईयों का आग़ाज़ होचुका है।

मर्कज़ी विज़ारत में उन की शमूलीयत के बाद से रियासत में जो कुछ भी सियासी तबदीलीयां रुनुमा हुईं इस में चिरंजीवी ने हाईकमान के पास अहम रोल अदा किया और रियासत की सूरत-ए-हाल के बारे में मालूमात हासिल करने में हाईकमान के क़ाइदीन ने उन की रिपोर्ट पर ही इन्हिसार किया।

इस सूरत-ए-हाल को देखते हुए पार्टी हलक़ों का कहना है कि कांग्रेस आला कमान 2014 के इंतिख़ाबात में चिरंजीवी के लिए किसी अहम रोल को महफ़ूज़ करचुका है।

यही वजह है कि चिरंजीवी अब किरण कुमार रेड्डी हुकूमत की पालिसीयों पर खुल कर नुक्ता चीनी करने लगे हैं और उन के बारे में चीफ़ मिनिस्टर और उन के हामीयों की जानिब से की गई शिकायत पर हाईकमान ने कोई नोट नहीं लिया।

जब कभी चिरंजीवी पर अप्पोज़ीशन की जानिब से तन्क़ीद की जाती तो उन के बाअज़ कट्टर हामी ही इस का जवाब देते थे। लेकिन अब तो कई रियास्ती वुज़रा और चीफ़ मिनिस्टर से क़ुरबत रखने वाले क़ाइदीन भी चिरंजीवी की ताईद में बयानबाज़ी करने लगे हैं।

वाजेह रहे कि चिरंजीवी ने 26 अगस्ट 2008 को प्रजा राज्यम के नाम से नई इलाक़ाई जमात क़ायम की थी और इसे कांग्रेस और तेलूगूदेशम का मुतबादिल क़रार दिया था।

294 रुकनी असेंबली में उन्हें सिर्फ़ 18 नशिस्तों पर कामयाबी हासिल हुई जबकि लोक सभा की एक भी नशिस्त प्रजा राज्यम के हिस्सा में नहीं आई थी।

6 फ़बरोरी 2011को उन्हों ने सदर कांग्रेस सोनीया गांधी से मुलाक़ात के बाद प्रजा राज्यम के कांग्रेस में इंज़िमाम का ऐलान किया।

TOPPOPULARRECENT