Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / चीफ़ मिनिस्टर के ख़िलाफ़ शिकायतों में शिद्दत

चीफ़ मिनिस्टर के ख़िलाफ़ शिकायतों में शिद्दत

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी की जानिब से पार्टी सीनीयर वुज़रा और अरकान असेंबली को नजरअंदाज़ करने की शिकायात शिद्दत इख़तियार करती जा रही है। इस सिलसिले में बाअज़ क़ाइदीन ने कांग्रेस आला कमान से शिकायत की। बताया जाता है कि

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी की जानिब से पार्टी सीनीयर वुज़रा और अरकान असेंबली को नजरअंदाज़ करने की शिकायात शिद्दत इख़तियार करती जा रही है। इस सिलसिले में बाअज़ क़ाइदीन ने कांग्रेस आला कमान से शिकायत की। बताया जाता है कि असेंबली में हुकूमत की हिक्मत-ए-अमली तए करना हो या फिर अपोज़ीशन के हमलों का मुक़ाबला करना, किसी भी मसला पर चीफ़ मिनिस्टर सीनीयर वुज़रा और अरकान असेंबली से मुशावरत नहीं कररहे हैं।

बताया जाता है कि बजट इजलास के आग़ाज़ से लेकर अब तक चीफ़ मिनिस्टर किसी भी मसला पर अपने साथी वुज़रा और पार्टी में मौजूद सीनीयर तरीन अरकान असेंबली से कोई मुशावरत नहीं की जिस के बाइस इन में मायूसी पाई जाती है। दो दिन कब्ल असेंबली में शराब स्कैंडल पर हंगामाख़ेज़ मुबाहिस के दौरान भी चीफ़ मिनिस्टर ने सिर्फ अपनी पेशी के ओहदेदारों से मुशावरत करते हुए हिक्मत-ए-अमली को तए किया।

गर्वनमैंट चीफ़ विहिप और विहपस से भी चीफ़ मिनिस्टर ने कोई मुशावरत नहीं की क्योंकि ये तीनों अमलन ना तजुर्बा कार हैं। इन का इंतिख़ाब बजट इजलास से कब्ल ही किया गया। आम तौर पर असेंबली क़वाइद का तजुर्बा रखने वाले अफ़राद को ही विहिप के ओहदा पर मुक़र्रर किया जाता है लेकिन किरण कुमार रेड्डी ने ना तजुर्बा कार अरकान को ये ज़िम्मेदारी दी।

पार्टी ज़राए ने बताया कि चीफ़ मिनिस्टर के इस रवैय्ये से वुज़रा मायूस हैं और उन्हों ने मुबाहिस के दौरान चंद्रा बाबू नायडू की जानिब से चीफ़ मिनिस्टर के ख़िलाफ़ हमलों के मौक़ा पर तमाशाई का रोल अदा किया। किसी भी सीनीयर रुकन ने मुदाख़िलत करते हुए चंद्रा बाबू नायडू का जवाब देने की कोशिश नहीं की। इन वुज़रा का कहना है कि जब चीफ़ मिनिस्टर को ही दिलचस्पी ना हो तो वो क्यों मुदाख़िलत करेंगे।

असेंबली का बजट इजलास चूँकि 31 मार्च तक जारी रहे गा। चीफ़ मिनिस्टर की पालिसी से मुश्किलात पैदा हो सकती हैं। राज शेखर रेड्डी के दौर में वो किसी भी मसला पर इस शोबा के माहिरीन से मुशावरत करते थे। वो अक्सर वुज़रा-ओ-अरकान असेंबली से मुशावरत करते और अपोज़ीशन के ख़िलाफ़ हिक्मत-ए-अमली तए करते लेकिन किरण कुमार रेड्डी वुज़रा-ओ-अरकान असेंबली के मुक़ाबले ओहदेदारों को तर्जीह दे रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT