Friday , August 18 2017
Home / Khaas Khabar / चीफ़ मिनिस्टर का वादा-वफ़ा ना हुवा

चीफ़ मिनिस्टर का वादा-वफ़ा ना हुवा

हैदराबाद11 सितंबर: रोज़नामा सियासत की तरफ से 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात के लिए हुकूमत पर दबाओ बनाने के लिए शुरू करदा तहरीक का शहरे हैदराबाद के अलावा तेलंगाना के तमाम अज़ला में ज़बरदस्त रद्द-ए-अमल देखा जा रहा है।

सदर तेलंगाना उर्दू फ़ोरम्-ओ-मज़हर एजूकेशनल सोसाइटी मुहम्मद इस्मईल अलरब अंसारी (उर्दू अंसारी) की क़ियादत में ख़वातीन पर मुश्तमिल एक वफ़द ने कलेक्टर हैदराबाद राहुल बोज्ह से मुलाक़ात करते हुए मुसलमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने के लिए एक तहरीरी याददाश्त पेश की।

बादअज़ां अंसारी ने बताया कि टी आर एस ने अपने चुनाव मंशूर में मुसलमानों को तालीम और मुलाज़िमतों में 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने का वादा किया था।

मुसलमानों ने ख़ौरमक़दम करते हुए टी आर एस को इक़तिदार सौंपने में ग़ैरमामूली रोल अदा किया। टी आर एस दौर-ए-इक्तदार के 15 माह मुकम्मिल हो चुके हैं, इस दौरान चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना ने बड़े पैमाने पर सरकारी मुलाज़िमत देने का एलान किया है।

मुसलमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात फ़राहम ना करने की वजह से मुस्लिम तलबा को तालीमी मैदान में दो साल से नुक़्सान बर्दाश्त करना पड़ रहा है। अब मुलाज़िमतों में भी मुसलमानों को नुक़्सान हो रहा है।

उन्होंने एडीटर रोज़नामा सियासत ज़ाहिद अली ख़ां और इदारा सियासत के ज़िम्मेदारान से इज़हार-ए-तशक्कुर करते हुए कहा कि मुसलमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने की रोज़नामा सियासत ने जो तहरीक शुरू की है, वो काबिल-ए-सिताइश है।

 

TOPPOPULARRECENT