Sunday , August 20 2017
Home / Khaas Khabar / चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के सी आर को चीन में ही मुक़ीम रहने का मश्वरह:पूनम प्रभाकर

चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के सी आर को चीन में ही मुक़ीम रहने का मश्वरह:पूनम प्रभाकर

हैदराबाद 12 सितंबर: कांग्रेस के साबिक़ रुकने पार्लियामेंट पूनम प्रभाकर ने चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के सी आर के दौरा चीन पर रवाना होने के बाद रियासत में मूसलाधार बारिश होने का इद्दिआ करते हुए उन्हें दो साल तक चीन में रहने का मश्वरह दिया।

गांधी भवन में प्रेस कांफ्रेंस से ख़िताब करते हुए उन्होंने कहा कि जब से के सी आर तेलंगाना के चीफ़ मिनिस्टर बने हैं, रियासत ख़ुशकसाली का शिकार है, नाकाफ़ी बारिश से बड़े पैमाने पर फसलों को नुक़्सान हो रहा है और किसान ख़ुदकुशी कर रहे हैं, लेकिन जब से वो चीन के दौरे पर रवाना हुए हैदराबाद तेलंगाना में मूसलाधार बारिश हो रही है और आबपाशी प्रोजेक्ट्स में पानी जमा हो रहा है।

उन्होंने कहा कि अगर चीफ़ मिनिस्टर दो साल चीन में क़ियाम करें तो तेलंगाना की तरक़्क़ी होगी और किसानों के चेहरों पर ख़ुशी लौट आएगी। उन्होंने कहा कि तेलंगाना में टी आर एस के दौरे हुकूमत में हुकूमत के अदम तआवुन, ख़ुशकसाली, क़र्ज़ माफ़ ना होने, नए क़र्ज़ाजात ना मिलने, फसलों के नुक़्सानात का इंशोरंस ना मिलने और सूद का बोझ बढ़ जाने की वजह से अब तक 1300 किसान ख़ुदकुशी कर चुके हैं, ताहम हुकूमत ने इन किसानों पर कोई तवज्जा नहीं दी और ना ही चीफ़ मिनिस्टर या वुज़रा ने मुतास्सिरा किसानों के अरकाने ख़ानदान से मिलना गवारा क्या, यहां तक कि किसानों को ख़ुदकुशी ना करने का मश्वरह भी नहीं दिया गया।

उन्होंने कहा कि दुसरे किसानों की ख़ुदकुशी पर भी अगर हुकूमत सरगर्मी ज़ाहिर करती तो किसानों को फ़ायदा पहुंच सकता था। उन्होंने असेंबली का ख़ुसूसी मीटिंग तलब करके किसानों के दुसरे अहम मसाइल पर ग़ौर करने का मुतालिबा किया।

TOPPOPULARRECENT