Tuesday , September 26 2017
Home / Featured News / UP चुनाव: सपा के कई बड़े नेता BJP में जा सकते हैं

UP चुनाव: सपा के कई बड़े नेता BJP में जा सकते हैं

इलाहाबाद। सूबे के सत्ताधारी दल में इन दिनों आपसी लड़ाई चरम पर है 2012 विधान सभा चुनाव में साइकिल की सवारी कर विधानसभा पहुॅचे कई माननीय विधायको की कुर्सी खतरे मे है। इन विधायको से जनता से ज्यादा पार्टी के पदाधिकारी नाराज है। पार्टी के भीतर गृृह युद्व जैसी स्थिती बन रही है। हर विधान सभा क्षेत्रो के कार्यकर्ता अलग.अलग गुटो में बट गए हैं। पार्टी के भीतर सब कुछ ठीक नही है इलाहाबाद के कार्यालय में होने वाली मासिक बैठक में इस बार मात्र एक विधायक पहुंचे जिससे पार्टी के पदाधिकारी खासे नाराज हैं।

पार्टी के पदाधिकारी की माने तो ये सब उन वरिष्ठ नेताओं का किया धरा है जो इस बार पार्टी से टिकट लेने के लिए अपनी गणित में लगे हैं। ये वरिष्ठ नेता अपने.अपने सूत्रों से पार्टी आला कमान तक विधायको की शिकायतो का पुलिन्दा पहुॅचा रहें हैं। जिससे कई विधायक नाराज है।
वरिष्ठ नेताओं के निशाने पर कई विधायक हैं इनका कहना है कि ये विधायक अपने लाभ के लिए किसी भी समय पार्टी को छोड़ सकते हैं। इलाहाबाद के लगभग 5 विधायक इस समय पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के रॅडार पर हैंए इन विधायको के दल बदलने की प्र्रबल संभावनाएं बताई जा रही हैं। पिछले दिनों ब्लाॅक प्रमुख चुनाव के दौरान हुए गोली काण्ड में हड़िया विधायक प्रसांत सिंह और फुलपुर विधायक सईद अहमद पार्टी आला कमान के निशाने पर है। सब का अपना अलग.अलग गुट है इन गुटो के कार्यकर्ता पार्टी से ज्यादा अपने गुट का झंण्डा बुलन्द करने में लगे है।

जो पार्टी के लिए भारी घाटे का सौदा हो सकता है इलाहाबाद जिले की 12 सीटों पर समाजवादी पार्टी के वर्तमान विधायक है लेकिन बमुश्किल ही यह सब एक साथ होते हो पार्टी कार्यालय पर मासिक बैठक में विधायको का ना आना बहुत बड़ा विषय नही था लेकिन विधायको द्वारा पार्टी कार्यालय को चलाने का हर माह 1000 रूपये चन्दा भी बन्द कर दिया गया हैं पार्टी कार्यालय पर ना आने की वजह भी पार्टी पदाधिकारियों को नही दी जा रही है।

पिछले तीन माह के मासिक बैठक में मात्र गंगा पार के सोराॅव विधानसभा के विधायक सत्यवीर मुन्ना ही पहुंचे है एइसके अलावा किसी ने ना आने की सूचना दी है और ना ही कारण बताया गया है यह माना जा रहा है की यह गुटबाजी का ही नतीजा है। इस मामले में जब सपा जिलाध्यक्ष कृृष्ण मूर्ति सिंह यादव से बात की तो उन्होंने बताया। की पार्टी आलाकमान की नजर सब पर है और वह इन सब की गतिविधियों को जानते है कुछ लोग है जिन्हें चिन्हित किया जा रहा है जल्द ही पार्टी इस पर निर्णय लेगी।

TOPPOPULARRECENT