Monday , October 23 2017
Home / Hyderabad News / जगन‌ रेड्डी के मुख़ालिफ़ तेलंगाना बयान पर तन्क़ीद : महमूद अली का रद्द-ए-अमल

जगन‌ रेड्डी के मुख़ालिफ़ तेलंगाना बयान पर तन्क़ीद : महमूद अली का रद्द-ए-अमल

हैदराबाद ०‍‍‍‍‍‍४दिसंबर : मुहम्मद महमूद अली सदर अक़ल्लीयती सेल टी आर ऐस और पोलीट ब्यूरो मैंबर ने जगह रेड्डी ऐम एल ए सिंगा रेड्डी कांग्रेस हुकूमत के विहिप पर तन्क़ीद करते हुए कहा कि पहले तो फ़िकरोपरस्त वही हैं जो सिंगा रेड्डी असै

हैदराबाद ०‍‍‍‍‍‍४दिसंबर : मुहम्मद महमूद अली सदर अक़ल्लीयती सेल टी आर ऐस और पोलीट ब्यूरो मैंबर ने जगह रेड्डी ऐम एल ए सिंगा रेड्डी कांग्रेस हुकूमत के विहिप पर तन्क़ीद करते हुए कहा कि पहले तो फ़िकरोपरस्त वही हैं जो सिंगा रेड्डी असैंबली को मंदिरों से भर दिया । अभी हाल में जो सिंगा रेड्डी में फ़िर्कावाराना फ़साद हुआ वो भी उन्हीं की कारस्तानी थी । आप ज़रूर कांग्रेस में शामिल हो गए मगर आप का चेहरा पक्का फ़िकरोपरस्त जैसा है ।

बी जे पी से नरेंद्र के साथ टी आर इसमें शामिल हुए और तलंगाना अवाम के तुफ़ैल पहली मर्तबा ऐम एलए रहने और इक़तिदार के लालच में कांग्रेस में शामिल हुए और दौलत से मालामाल हुए और आज इक़तिदार की हवस के लिए आंधरा वालों की ख़ुशनुदी की ख़ातिर तेलंगाना अवाम से ग़द्दारी कररहे हैं । उन्हों ने कई बार तेगाना से ना इंसाफ़ी का ज़िक्र किया मगर आज ख़ुद ही चंद सकूं के लिए तेलंगाना की मुख़ालिफ़त कर रहे हैं ।

इंतिख़ाबात में तलंगाना अवाम आप जैसे ग़द्दारों को सबक़ सिखाएं गे । तलंगाना के लिए सैंकड़ों नौजवान पुलिस की गोलीयों और ख़ुदकुशी के ज़रीया हलाक हो गए हैं । क्या यही जमहूरीयत का निज़ाम है ? महमूद अली ने सवाल किया एक पोटी सिरी रामलो के मरण बरत पर आंधरा अलहदा हो सकता है जबकि तेलंगाना को तलंगाना की अवाम की मर्ज़ी के बगै़र तीन टुकड़ों में तक़सीम किया गया ।

मुत्तहदा(मिला हुआ) आंधरा में सब से ज़्यादा ना इंसाफ़ी मुस्लिम क़ौम के साथ हुई । मुस्लमान बादशाह गिर थे मगर आज सल्लम बस्तीयों में ज़िंदगी गुज़ार रहे हैं । मुलाज़मतों में 33 फ़ीसद से एक फ़ीसद के बराबर हो चुके हैं । हर शोबा-ए-हियात में दूसरी क़ौमों से बहुत पस्त हो चुके हैं ।

तेलंगाना अवाम की ख़ुशहाली और मुस्लमानों की ख़ुशहाली सिर्फ़ और सिर्फ़ अलहदा तलंगाना में ही मुज़म्मिर है ।

TOPPOPULARRECENT