Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / जगन के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा, मुल्ज़िमीन की अदालत में हाज़िरी

जगन के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा, मुल्ज़िमीन की अदालत में हाज़िरी

वाई एस आर कांग्रेस के सदर वाई एस जगन मोहन रेड्डी की कंपनीयों में सरमाया कारी के इव्ज़ सरकारी फ़वाइद के एक मुक़द्दमा के मुल्ज़िमीन ओंगोल के रुकने पार्लियामेंट वाई वि सुबह रेड्डी, एक आई ए एस अफ़्सर एस एन मोहंती और दूसरे सुमन की इजराई पर अ

वाई एस आर कांग्रेस के सदर वाई एस जगन मोहन रेड्डी की कंपनीयों में सरमाया कारी के इव्ज़ सरकारी फ़वाइद के एक मुक़द्दमा के मुल्ज़िमीन ओंगोल के रुकने पार्लियामेंट वाई वि सुबह रेड्डी, एक आई ए एस अफ़्सर एस एन मोहंती और दूसरे सुमन की इजराई पर अदालत में हाज़िर हुए।

इंदू आंध्र प्रदेश हाओज़िंग बोर्ड अराज़ी स्क़ाम पर अदालत ने जगन और दूसरों के ख़िलाफ़ सी बी आई की तरफ़ से पेश करदा 11 वीं चार्ज शीट का 22 दिसंबर को अपने तौर पर नोट लेते हुए इस मुक़द्दमा के तमाम मुल्ज़िमीन के ख़िलाफ़ सुमन जारी किए थे।

जगन के मुशीर मालियात विजय साई रेड्डी, एस एन मोहंती (जगन के एक रिश्तेदार) सुबह रेड्डी, सनअत कार जय श्याम प्रसाद रेड्डी, वे कृष्णा प्रसाद और चार्ज शीट में मुल्ज़िमीन की हैसियत से शामिल चंद कंपनीयों के नुमाइंदों ने अदालत में हाज़िरी दी और फी कस दो ज़मानतों के अलावा 25,000 रुपये मालियती शख़्सी मुचल्का दाख़िल किए।

इस मुक़द्दमा में मुल्ज़िमीन की ये पहली हाज़िरी थी, जिस में जगन असल मुल्ज़िम और दुसरे 14 मुल्ज़िमीन में हैं। जगन जो हलक़ा असेंबली पोली वीनदला की नुमाइंदगी करते हैं,अदालत में हाज़िर नहीं हुए, क्युंकि आंध्र प्रदेश असेंबली के रवां मीटिंग में शिरकत के लिए उन्होंने हाज़िरी से इस्तिस्ना-ए-की दरख़ास्त पेश की थी। आइन्दा पेशी 29 जनवरी को मुक़र्रर की गई है।

TOPPOPULARRECENT