Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / जगन हामी रुक्न रनगा राव को भी वजह नुमाई नोटिस

जगन हामी रुक्न रनगा राव को भी वजह नुमाई नोटिस

प्रदेश कांग्रेस तादीबी(अनुशासनात्मक) कमेटी ने जगन के कैंप में हाज़िरी देने वाले दो कांग्रेस के अरकान असेंबली ए नानी और रनगा राव को वजह नुमाई नोटिस (वजह बताओ नोटिस )देते हुए अंदरून 4 जून जवाब देने की हिदायत दी पहले सिर्फ ए नानी को ही वजह नुमाई नोटिस (वजह बताओ नोटिस )देने का फैसला किया गया था ताहम (फिर भी) सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी मिस्टर बी सत्य नारायना की सिफ़ारिश पर रनगाराव को भी लम्हे आख़िर में वजह नुमाई नोटिस (वजह बताओ नोटिस )जारी की गई है ।

चार दिन क़ब्ल जब सदर वाई एस आर कांग्रेस पार्टी मिस्टर जगन मोहन रेड्डी ने पूछताछ के लिये सी बी आई के सामने रुजू हुए थे तब असेंबली हलक़ा अलवर की नुमाइंदगी (प्रतिनिधित्व)) करने वाले कांग्रेस के रुक्न असेंबली मिस्टर ए नानी जगन के हमराह दिलकुशा गेस्ट हाइज़ पहूंचे थे । दूसरे दिन असेंबली हलक़ा बबली की नुमाइंदगी (प्रतिनिधित्व)) करने वाले कांग्रेस के रुक्न असेंबली मिस्टर रनगारावजगन की क़ियामगाह लोटस पाउंड पहुनचकर डाक्टर राज शेखर रेड्डी की बेवा मिसिज़ वजया लक्ष्मी से मुलाक़ात की थी ।

जिस का कांग्रेस पार्टी ने सख़्त नोट लिया है । आज सुबह गांधी भवन में प्रदेश कांग्रेस तादीबी(अनुशासनात्मक) कमेटी का इजलास सदर नशीन मिस्टर के सत्य नारायना राजू की क़ियादत में मुनाक़िद हुआ जिस में कमेटी के अरकान रुक्न असेंबली कशेटा रेड्डी साबिक़ रुक्न क़ानूनसाज़ कौंसल मिस्टर सुलतान अहमद के इलावा दूसरे मौजूद थे ।

प्रदेश कांग्रेस तादीबी(अनुशासनात्मक) कमेटी के इजलासमें मुख़ालिफ़ पार्टी सरगर्मियों में मुलव्विस(शामिल) होने वाले क़ाइदीन का जायज़ा लिया गया । बिलख़सूस अरकान असेंबली के हदूद पार करने पर तादीबी(अनुशासनात्मक) कमेटी ने उन के ख़िलाफ़ सख़्त क़दम उठाने का फैसला किया है ताकि दूसरे अरकान असेंबली-ओ-पार्टी क़ाइदीन कोमुख़ालिफ़ पार्टी सरगर्मियों में मुलव्विस(शामिल) होने पर सख़्त कार्रवाई करने का इंतिबाह दिया जा सके ।

इजलास के बाद मीडिया से बात चीत करते हुए सदर नशीन तादीबी(अनुशासनात्मक) कमेटी ने कहा कि मुख़ालिफ़ पार्टी सरगर्मियों में हिस्सा लेने वाले कांग्रेस क़ाइदीन को हरगिज़ माफ़ नहीं किया जाएगा ।

उन्हों ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के टिकट और हाथ के निशान पर कामयाब होने वाले अरकान असेंबली को दूसरी जमात में शामिल होना है तो वो पहले इवान और पार्टी की रुकनीयत से मुस्ताफ़ी हो बाद में दूसरी जमात में जाएं ।।

TOPPOPULARRECENT