Saturday , October 21 2017
Home / Bihar News / जमियतुल उलेमा का इत्तिहाद पर ज़ोर

जमियतुल उलेमा का इत्तिहाद पर ज़ोर

जमियतुल उलेमा हिन्द बिहार के ज़ेरे एहतेमाम आज मदनी मुसाफिर खाना में रियासत के मुतद्दिद दिनी और मजहबी औरों और शहर के अहम दानिश्वरों के खुसुसि नाशस्त हुयी जिसमें एडवोकेट रागिब हसन आरजेडी के सैयद अशहद आली, डॉक्टर अहमद अब्दुल हाई, मौ

जमियतुल उलेमा हिन्द बिहार के ज़ेरे एहतेमाम आज मदनी मुसाफिर खाना में रियासत के मुतद्दिद दिनी और मजहबी औरों और शहर के अहम दानिश्वरों के खुसुसि नाशस्त हुयी जिसमें एडवोकेट रागिब हसन आरजेडी के सैयद अशहद आली, डॉक्टर अहमद अब्दुल हाई, मौलाना कासिम और दीगर मिली तंज़िमों के रहनुमाओं ने शिरकत की। उन्होने इत्तिफ़ाक़ राय से मुत्तहीद होकर सेकुलर ताकतों को कामयाब बनाने की दरख्वास्त की।

प्रोग्राम नजीमे आला हसन अहमद कादरी की सदारत में मुनक्कीद हुयी। जलसे का आगाज तिलावत कलाम पाक से हुआ। इस जलसे में जो मौजू ज़ेरे बहस आया। वो हालिया पार्लियामेंट इंतिखाब का है। इस इंतिख़ाब में अक्लियती वोटों का इंतिशार नहीं हुआ और मुत्तहदी होकर अक्लियती राए दिहिंदगान सेकुलर उम्मीदवार को कामयाब बनाने के लिए कैसे सई करें। इस सिलसिले में एक वाजेह हिकमत अमली पर भी गौर व खौस का इज़हार किया गया के 10 अप्रैल के इंतिख़ाब में अक्लियतों ने मुत्तहीद होकर शानदार दानिशमंदी का सबूत देकर सेकुलर उम्मीदवारों के हक़ में और फिरका परस्त उम्मीदवारों को शिकस्त देने के लिए अपने हक़ राए देही का इस्तेमाल किया, जो मुल्क व मिल्लत और हिंदुस्तानी आईन के लिए खुश आईनद बात है।

पाटलीपुत्र सीट से आरजेडी उम्मीदवार डॉक्टर मिसा भारती को कामयाब बनाने की बात कही। उम्मीद की जाती है के सभी मरहलों में इसी तरीके से अपने ज़ाती मुफाद से ऊपर उठकर इत्तिहाद का मुजाहेरा करते हुये मुल्क व मिल्लत और आईन की हिफाजत के लिए अपने राय देही का इस्तेमाल करेंगे। 10 अप्रैल को हुये इंतिख़ाब में जिस तरह से अक्लियती वोटरों बिल्खुसूस ख़वातीन अक्लियती वोटर के साथ गैर पार्लियामनी ज़ुबान का इस्तेमाल किया जा रहा है और खास तौर पर गया पार्लियामनी हल्का के बलिया में जो वाकिया पेश आया वो जम्हूरी मुल्क के लिए बदनुमा दाग है।

TOPPOPULARRECENT