Tuesday , October 24 2017
Home / India / जम्मू कश्मीर में ईद उल अज़हा की तैयारीयां

जम्मू कश्मीर में ईद उल अज़हा की तैयारीयां

श्रीनगर, २६ अक्टूबर ( पी टी आई) वादी कश्मीर में हर जगह ईद उल अज़हा की तैयारीयों के मुनाज़िर देखे जा रहे हैं जहां हफ़्ता के रोज़ त्योहार हज़रत इबराहीम अलैहिस्सलाम के अपने लख़त-ए-जिगर हज़रत इस्माईल अलैहिस्सलाम की क़ुर्बानी की याद ताज़ा करता

श्रीनगर, २६ अक्टूबर ( पी टी आई) वादी कश्मीर में हर जगह ईद उल अज़हा की तैयारीयों के मुनाज़िर देखे जा रहे हैं जहां हफ़्ता के रोज़ त्योहार हज़रत इबराहीम अलैहिस्सलाम के अपने लख़त-ए-जिगर हज़रत इस्माईल अलैहिस्सलाम की क़ुर्बानी की याद ताज़ा करता है ।

यहां के बाज़ारों में हर तरफ़ गहमा गहमी और चहल पहल नज़र आ रही है जहां लोग क़ुर्बानी के जानवर कपड़े और दीगर पकवान की अशीया ( सामग्री) ख़रीदने निकले हैं ख़ुसूसी तौर पर मिठाईयों की दुकानात, बकरियों और कपड़े की दुकानात पर ज़्यादा भीड़ नज़र आ रही है ।

रेडीमेड कपड़ों की कई आरिज़ी दुकानात लाल चौक में लगाई गई हैं जहां अवाम का हुजूम ( भीड़) है । दूसरी तरफ़ ख़रीदारी के लिए रक़ूमात हासिल करने बैंकों और ए टी एम पर भी तवील ( लंबी) क़तारें देखने में आएं । बकरों के इलावा भेड़ों को भी शहर के कई मुक़ामात पर फ़रोख्त किया जा रहा है और उन्हें दीगर रियास्तों से भी यहां लाया गया है ।

ख़रीदारों के इसी हुजूम की वजह से कई मुक़ामात पर ट्रैफ़िक जाम भी देखा गया । महकमा ट्राफिक ( Traffic Ddepartment) ने मौलाना आज़ाद और रेसीडेन्सी रोड पर कमर्शियल गाड़ीयों की आमद-ओ-रफ़त ( आवागमन) पर इमतिना आइद कर ( रोक लगा) दिया है ताकि लाल चौक जाने वाले अवाम को मुश्किलात का सामना ना करना पड़े ।

उन तहदीदात ( पाबंदियों) पर जुमा की शब तक अमल आवरी की जाएगी । याद रहे कि जम्मू-ओ-कश्मीर में ईद-उल-फ़ित्र के मौक़ा पर भी इसी नौईयत की भीड़ ( बल्कि इस से कुछ ज़्यादा) नज़र आई है । ईद उल फित्र की ख़ुसूसीयत ये होती है कि ख़रीदार रमज़ान उल-मुबारक के आग़ाज़ से ही बाज़ारों का रुख करना शुरू कर देती हैं और तक़रीबन एक माह तक ख़रीद-ओ‍फ़रोख्त का सिलसिला जारी रहता है जबकि ईद उल अज़हा के मौक़ा पर ज़्यादा तवज्जा क़ुर्बानी के जानवरों की ख़रीदारी पर मर्कूज़ ( केंद्रित) रखी जाती है ।

ज़ी अलहजा की दस तारीख़ को हज बैतुल्लाह की तकमील के बाद अल्लाह ताला के शुक्राने के तौर पर भी ईद उल अज़हा मनाई जाती है ।

TOPPOPULARRECENT