Wednesday , October 18 2017
Home / Featured News / जम्मू-कश्मीर विधानसभा में भाजपा सदस्यों का विरोध

जम्मू-कश्मीर विधानसभा में भाजपा सदस्यों का विरोध

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की विधानसभा में गुरुवार को पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के गठबंधन सरकार को उस समय हार का सामना करना पड़ा जब भाजपा पार्टी के कुछ सदस्य विरोध करते हुए सदन में प्रवेश हो गए। उनके विरोध सदस्यों का आरोप था कि सरकार की ओर से कराई गई आश्वासनों को पूरा नहीं किया जाता और उनकी ओर से पेश किए गए प्रश्नों के गलत उत्तर प्रदान किए गए।

इस विरोध के दौरान भाजपा विधायक कठुआ राजीव जसर्वतया ने कठुआ में स्पोर्ट्स स्टेडियम का निर्माण न किए जाने के खिलाफ सदन से विरोध चला भाजपा सदस्यों के विरोध का लाभ उठाते हुए विपक्षी नेशनल कांफ्रेंस, कांग्रेस और उधमपुर से निर्दलीय विधायक ने भी सरकार को गंभीर आलोचना बनाया| जब सदन में ब्रेक प्रश्न जारी था तो चार से पांच भाजपा सदस्यों ने नारेबाजी शुरू कर दी और आरोप लगाया कि सरकार की ओर से कराई गई आश्वासनों को पूरा नहीं किया गया| विरोध सदस्यों ने आरोप लगाया कि सदन के निर्देशों का पालन होता है न सरकार की ओर से कराई गई विश्वास दहानियाँ पूरी होती हैं।

उन्होंने आगे आरोप लगाया कि सदन में सवालों के गलत जवाब पेश किए जाते हैं। विरोध सदस्यों इसके बाद विरोध करते हुए चाह सदन में प्रवेश हो गए। इन सदस्यों को यह कहते हुए सुना गया ‘जब निर्देशों का पालन नहीं होता, विश्वास दहानियाँ पूरी नहीं की जातीं तो फायदा क्या है सदन में भाग का’.नेशनल सम्मेलन, कांग्रेस के सदस्यों और उधमपुर निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय विधायक पवन कुमार गुप्ता भी अपनी सीटों खड़े और भाजपा के विरोध सदस्यों का साथ देने लगे|

नेशनल सम्मेलन विधायक अली मोहम्मद सागर को कहते हुए सुना गया ‘अपने सदस्यों को कराई गई विश्वास दहानियाँ पूरी नहीं करते, विपक्ष की तो बात ही नहीं भाजपा सदस्य जसर्वतया ने आरोप लगाया कि उनसे वादा किया गया था कि कठुआ में स्टेडियम का निर्माण किया जाएगा, लेकिन अभी भी वादा विश्वासघात नहीं हुआ.उन्होंने कहा कि वह सरकार से जवाब चाहते हैं। हालांकि उन्होंने बाद में सदन से विरोध चला गया।

TOPPOPULARRECENT