Wednesday , September 20 2017
Home / India / जयपुर आर्ट समिट में दक्षिणपंथी संगठन ने किया हंगामा, आयोजकों से की हाथापाई

जयपुर आर्ट समिट में दक्षिणपंथी संगठन ने किया हंगामा, आयोजकों से की हाथापाई

जयपुर में चल रहे आर्ट समिट में गुरुवार को स्थानीय दक्षिणपंथी संगठन ने जमकर बवाल किया। लाल शक्ति सेना नाम के इस संगठन के कार्यकर्ताओं ने यहां लगी पेंटिंग न सिर्फ उतारी बल्कि आयोजकों से हाथापाई भी की। ऐसा करने के पीछे उन्होंने वजह बताई कि आर्ट समिट में महिला की न्यूड पेंटिंग दर्शकों को दिखाई जा रही है, जो हमारी देश की संस्कृति के ख़िलाफ़ है। अब दोनों पक्षों ने पुलिस में एक दूसरे के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराई है।

समिट में तोड़फोड़ मचाने वाले लाल शक्ति के कार्यकर्ता बताए जा रहे हैं, जिसके 90 फीसदी सदस्य महिलाएं हैं। लाल शक्ति की हेमलता शर्मा ने कहा, ‘हम चाहते थे कि कलाकार वहां से विवादित तस्वीरें हटा लें लेकिन उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया। महिलाओं को गलत तरह से पेश करने को लेकर हमारी कलाकारों के साथ कुछ समय तक बहस हुई और आखिरकार हमने पेंटिंग्स को पास के लाल कोठी पुलिस स्टेशन में दे दिया।

जयपुर आर्ट समिट के संस्थापक शैलेंद्र भट्ट ने कहा, ‘ये अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला है। कोई कैसे फैसला ले सकता है और आदेश दे सकता है? किसी भी चीज को सही या गलत बताने से पहले आपको कला की समझ होनी चाहिए।शैलेंद्र भट्ट ने कहा कि इस हरकत से समिट की छवि खराब हुई है। उन्होंने कहा, ‘समिट में आए विदेशी कलाकारों के सामने इसकी क्या छवि बनेगी?

जयपुर आर्ट समिट 7 दिसंबर से 11 दिसंबर तक चलेगा, जिसमें 25 देशों के करीब 500 कलाकारों ने हिस्सा लिया है।

जयपुर आर्ट समिट का विवादों से पुराना नाता है। पिछले साल यहां मरी गाय का स्कल्पचर लटकाया जाने पर काफी विवाद हुआ था।  इससे पहले टॉयलेट पॉट को गणेश जी का रूप देकर एग्जीबिशन में पेश किया गया जिसके बाद हिंदुवादी संगठनो ने यहां जमकर तोड़ फोड़ की थी।  एम.एफ हुसैन की कलाकृति के प्रदर्शन को लेकर यहां बवाल हो चुका है।

TOPPOPULARRECENT