Saturday , October 21 2017
Home / India / ज़ख़्मी पुलिस अहलकार को बे यार-ओ-मददगार छोड़ देने का इल्ज़ाम बेबुनियाद : ब्राउन

ज़ख़्मी पुलिस अहलकार को बे यार-ओ-मददगार छोड़ देने का इल्ज़ाम बेबुनियाद : ब्राउन

बैंगलोर, 08 फ़रवरी: ( पी टी आई) फ़िज़ाईया सरबराह एन ए के ब्राउन ने आज इन इल्ज़ामात को लगू ( बेहूदा) और बे बुनियाद क़रार दिया जहां ये कहा जा रहा था कि फ़िज़ाईया के अमला और दीगर ओहदेदारान ने नक्सलाइट्स के ख़िलाफ़ मुहिम के दौरान एक नाकारा हो चुके हे

बैंगलोर, 08 फ़रवरी: ( पी टी आई) फ़िज़ाईया सरबराह एन ए के ब्राउन ने आज इन इल्ज़ामात को लगू ( बेहूदा) और बे बुनियाद क़रार दिया जहां ये कहा जा रहा था कि फ़िज़ाईया के अमला और दीगर ओहदेदारान ने नक्सलाइट्स के ख़िलाफ़ मुहिम के दौरान एक नाकारा हो चुके हेलीकाप्टर में मौजूद एक ज़ख़मी पुलिस अहलकार को बे यार-ओ-मददगार छोड़कर इस इलाक़े से मुबय्यना तौर पर निकल आए थे ।

मिस्टर ब्राउन ने कहा कि सेक्युरिटी एजेंसीयों को एक दूसरे पर कीचड़ उछालने का सिलसिला बंद कर देना चाहीए । एयर इंडिया एग्ज़ीबीशन के मौक़ा पर एक प्रेस कान्फ्रेंस से ख़िताब करते हुए उन्होंने कहा कि ये कहना कि फ़िज़ाईया का अमला ज़ख़्मी पुलिस वाले को छोड़कर फ़रार हो गया इंतिहाई बकवास मालूम होताहै।

उन्होंने वज़ाहत करते हुए कहा कि हेलीकाप्टर पर मौजूद फ़िज़ाईया की टीम ने हेलीकाप्टर और ज़ख़्मी पुलिस अहलकार को ( शायद) इसलिए छोड़ दिया होगा कि उन्हें इस बात का ख़दशा था कि अगर वो हेलीकाप्टर के क़रीब रहते हुए ज़ख़्मी पुलिस अहलकार को बाहर निकालने की कोशिश में कहीं नक्सलाइट्स के हाथों यरग़माल ना बना लिए जाएं क्योंकि वो इलाक़ा नक्सलाइट्स की आमाजगाह ( Target Point) है ।

TOPPOPULARRECENT