Saturday , September 23 2017
Home / Featured News / जात पात के कायम रहने तक आरक्षण भी रहना चाहिए : मोहन भागवत

जात पात के कायम रहने तक आरक्षण भी रहना चाहिए : मोहन भागवत

अपनी दोहरी नीतियों के चलते देश में हलचल मचाने के लिए मश्हूर आरएसएस के लीडर मोहन भागवत ने अपने ताज़ातरीन भाषण में कहा है कि देश में आरक्षण तब तक दिया जाता रहना चाहिए जब तक देश में से सामाजिक भेदभाव खत्म नहीं हो जाता।

यह बात आरएसएस प्रमुख ने महाराष्ट्र इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में रखी स्टूडेंट पार्लियामेंट में एक स्टूडेंट की तरफ से पूछे गए सवाल के जवाब में कही।

भागवत ने कहा “जब तक जात पात के नाम पर भेदभाव देश में ज़िंदा है तब तक आरक्षण मिलता रहना चाहिए लेकिन इसे ईमानदारी से लागू किया जाना चाहिए “

इसके इलावा पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए भागवत ने कहा कि आरएसएस देश के संविधान का पूरा मान सम्मान करती है और कॉलेजों और सरकारी नौकरियों में आरक्षण दिए जाने के हक़ में है बशर्ते इसे ईमानदारी से लागू किया जाए।

राम मंदिर मुद्दे पर बोलते हुए भागवत ने कहा कि भगवान राम हिन्दू धर्म के देवता हैं आरएसएस राम मंदिर बनाये जाने के हक़ में हैं।

धर्म के नाम पर राजनीति के बारे में पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए भागवत ने कहा कि ऐसे सवाल उन लोगों से किये जाने चाहियें जो मजहब के नाम पर राजनीति करते हैं, वो इस सवाल का जवाब देने वाले लोगों में से नहीं हैं।

TOPPOPULARRECENT