Friday , August 18 2017
Home / Crime / जानबूझकर क़र्ज़ न चुकाने वाली टॉप 10 कंपनियों में ‘डेक्कन क्रॉनिकल’ भी शामिल

जानबूझकर क़र्ज़ न चुकाने वाली टॉप 10 कंपनियों में ‘डेक्कन क्रॉनिकल’ भी शामिल

पिछले दिनों बैंकों से क़र्ज़ लेकर विदेश जा बैठे विजय माल्या ने बैंकों और देश की कानून व्यवस्था को सख्त कदम उठाने पर मजबूर कर दिया है।

मामले के बाद से कोर्ट ने सारी घटना को देखते हुए रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया को ‘विलफुल डिफॉल्टेर्स’ की लिस्ट कोर्ट में जमा करवाने का हुक्म दिया था। जिस पर काम करते हुए आरबीआई ने एक लिस्ट कोर्ट में दाखिल की है जिसमें देश के बड़े बड़े बिज़नेस हाउसेस पर कर्ज लेकर उसे वापिस न करने का पूरा हिसाब शामिल है।

इस लिस्ट के टॉप 10 डिफॉल्टेर्स की लिस्ट में पहले नंबर पर विन्सोम-फॉरएवर प्रेशियस ग्रुप है जिसकी देनदारी करीब 3969 करोड़ रूपये है वहीँ पांचवें पायदान पर माल्या की किंगफ़िशर एयरलाइन्स है जिसकी देनदारी 1798 करोड़ बताई जा रही है। वहीँ इसके बाद नंबर आता है देश की एक प्रमुख अखबार “डेक्कन क्रॉनिकल” को भी इस लिस्ट में 6वें पायदान पर जगह मिली है। इस अख़बार की देनदारी 991 करोड़ रूपये बताई जा रही है और इनपर आरोप है की क़र्ज़ का पैसा इन्होने क्रिकेट टीम खरीदने और और अपने बाकी प्रोजेक्ट्स में लगाया है जबकि लोन किसी और काम के लिए लिया गया था।

आपको बता दें कि ऐसी ही कंपनियों की लिस्ट में 500 से भी ज्यादा ऐसी कंपनियां शामिल हैं जो सरकार और लोगों के पैसों पर सांप की तरह कुंडली मारकर बैठे हैं। जहाँ आम आदमी को एक घर के लिए लोन लेने के लिए दुनिया भर की फॉर्मलिटियां पूरी करने को कहा जाता है वहीँ इन बिज़नेस हाउसेस के पीछे बैंक वाले लोन देने के लिए एड़ियां घिसते फिरते हैं।

TOPPOPULARRECENT