Thursday , August 17 2017
Home / Islami Duniya / जारिया माह रास्त अफ़्ग़ान – तालिबान मुज़ाकरात मुतवक़्क़े

जारिया माह रास्त अफ़्ग़ान – तालिबान मुज़ाकरात मुतवक़्क़े

इस्लामाबाद: चार मुल्की राबिता ग्रुप ने अफ़्ग़ान हुकूमत और तालिबान के बीच‌ जलद बराह-ए-रास्त मुज़ाकरात के लिए रोड मैप की मंज़ूरी देते हुए तमाम तालिबान ग्रुपों से अपील की है कि वो मुज़ाकरात में शरीक हो। ग्रुप के ममालिक ने मुज़ाकरात का इनीक़ाद फरवरी के इख़तेताम तक यक़ीनी बनाने के लिए मुशतर्का कोशिशें करने पर इत्तेफ़ाक़ किया है।

इस हवाले से जारी मुशतर्का आलामिया में कहा गया है कि अफ़्ग़ानिस्तान में अमन और मुफ़ाहमती अमल के बारे में चार मुल्की राबिता ग्रुप का इजलास इस्लामाबाद में हुआ जिसमें अफ़्ग़ानिस्तान, पाकिस्तान, अमरीका और चीन के नुमाइंदों ने शिरकत की। चार मुल्की राबिता ग्रुप के इजलास में पाकिस्तान की नुमाइंदगी सेक्रेटरी ख़ारिजा एज़ाज़ अहमद चौधरी जबकि अफ़्ग़ान वफ़द नायब वज़ीर-ए‍ख़ारिजा हिक्मत ख़लील करज़ई की क़ियादत में इजलास में शरीक हुआ।

अमरीकी ख़ुसूसी नुमाइंदा बराए अफ़्ग़ानिस्तान वपाकसतान रिचर्ड औलसन और चीन के ख़ुसूसी नुमाइंदा बराए अफ़्ग़ानिस्तान डींग झ़ी जून ने अपने अपने मुल्क की नुमाइंदगी की। गुज़िश्ता दो इजलासों के दौरान होने वाली पेशरफ़त की बुनियाद पर इजलास के शुरका ने अफ़्ग़ान हुकूमत और तालिबान ग्रुपों के दरमियान बराह-ए-रास्त मुज़ाकरात के जल्द इनीक़ाद के लिए मुम्किना तरीक़ों पर तबादला-ए-ख़्याल किया।

इस हवाले से चार मुल्की राबिता ग्रुप ने रोड मैप की भी मंज़ूरी दी जिसमें पेशरफ़त की ग़रज़ से मुख़्तलिफ़ मराहिल का ताय्युन किया गया है। जलास के शुरका ने इस बात पर-ज़ोर दिया कि मुफ़ाहमती अमल का नतीजा सियासी हल की सूरत में सामने आना चाहिए जिससे तशद्दुद का ख़ातमा हो और अफ़्ग़ानिस्तान में पायदार अमन क़ायम हो।

इस हवाले से चार मुल्की राबिता ग्रुप के ममालिक ने अफ़्ग़ान हुकूमत के नुमाइंदों और तालिबान ग्रुपों के दरमियान बराह-ए-रास्त मुज़ाकरात की तारीख़ रवां माह के इख़तेताम तक तै करने के लिए मुशतर्का कोशिशें करने पर इत्तेफ़ाक़ किया। राबिता ग्रुप ने अफ़्ग़ानिस्तान में अमन और मुफ़ाहमती अमल पर बिलार काइट् पेशरफ़त यक़ीनी बनाने की ग़रज़ से ग्रुप के इजलास बाक़ायदगी से मुनाक़िद करने पर भी इत्तेफ़ाक़ किया। इस में फ़ैसला किया गया कि ग्रुप का आइन्दा इजलास 23 फरवरी को काबुल में होगा|

TOPPOPULARRECENT