Thursday , October 19 2017
Home / Bihar News / जिमनी इंतिख़ाब : जदयू-राजद ने बांटीं चार-चार सीटें, कांग्रेस को दो

जिमनी इंतिख़ाब : जदयू-राजद ने बांटीं चार-चार सीटें, कांग्रेस को दो

बिहार एसेम्बली की 10 सीटों के लिए होने वाले जिमनी इंतिख़ाब की नोटिफिकेशन जारी होते ही सीटों के बंटवारे का फॉर्मूला भी तय हो गया। जदयू की झोली में हाजीपुर की सीट भी आ गयी है। चार सीटें जदयू और चार सीटें राजद को मिलेंगी। एक सीट के बदले ज

बिहार एसेम्बली की 10 सीटों के लिए होने वाले जिमनी इंतिख़ाब की नोटिफिकेशन जारी होते ही सीटों के बंटवारे का फॉर्मूला भी तय हो गया। जदयू की झोली में हाजीपुर की सीट भी आ गयी है। चार सीटें जदयू और चार सीटें राजद को मिलेंगी। एक सीट के बदले जदयू विधान परिषद की एक सीट राजद को देगा। इत्तिहाद में कांग्रेस भी शामिल होगी। उसे नरकटियागंज और भागलपुर की सीटें दी जायेंगी।

एक से दो दिनों में बंटवारे का ऐलान कर दी जायेगी। ज़राये के मुताबिक जदयू को जो चार सीटें मिली हैं उनमें परबत्ता, जाले, मोहनिया और हाजीपुर हैं। राजद को बांका, राजनगर, छपरा और मोहिदीनगर की सीट मिली है जबकि, नरकटियागंज और भागलपुर की सीट कांग्रेस की झोली में जायेगी। समझौते में जदयू को जाले की सीट मिल गयी तो यहां विजय कुमार मिश्र के बेटे ऋषि मिश्र उम्मीदवार बनाये जायेंगे।

जाले भाजपा की सीट रही है। भाजपा के टिकट पर ही विजय कुमार मिश्र एमएलए मुंतखिब हुए थे। हाल ही में मिस्टर मिश्र भाजपा और एसेम्बली की रुकनीयत छोड़ कर जदयू में शामिल हुए थे। परबत्ता की सीट 2010 में राजद के खाते में आयी थी। सम्राट चौधरी यहां से एमएलए थे।

इन्होंने भी राजद और एसेम्बली की रुकनीयत से इस्तीफा दिया था। अब वे जदयू से विधान पार्षद और हुकूमत में वज़ीर हैं। मोहनिया की सीट पर 2010 में जदयू के छेदी पासवान कामयाब हुए थे। लेकिन लोकसभा इंतिखाब के दौरान वे भाजपा में शामिल हो गये। जदयू इसे अपनी सीट मान रहा है।

नरकटियागंज की सीट कांग्रेस को दी गयी है। 2010 के इंतिख़ाब में कांग्रेस इस सीट पर दूसरे मुकाम पर रही थी। कांग्रेस के आलोक प्रसाद वर्मा 24729 वोट लाकर दूसरे मुकाम पर थे। इस वजह यह सीट कांग्रेस को दी गयी है। उसे दूसरी सीट भागलपुर दी गयी है। यहां भी कांग्रेस 2010 के इंतिख़ाब में दूसरे मुकाम पर थी।

TOPPOPULARRECENT